सातवी राष्ट्रीय कैनो सलालम प्रतियोगिता में भिंड की श्रेया यादव सबसे कम उम्र की गोल्ड मेडल जीतने बाली खिलाड़ी बनी। यह प्रतियोगिता महेष्वर में सहस्त्र धारा पर सम्पन्न हुई। इसमें 9 प्रदेशों के 97 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। उनमें से सबसे कम उम्र के खिलाड़ियों में से श्रेया एक थी। वह इलैया राजा सर को अपना आदर्श मानती है। यह खेल वॉटर स्पोर्ट का सबसे कठिन और रोमांचकारी खेल है इसे बाइल्ड गेम यानी जंगली गेम जाना जाता है। इसमें सदैव दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। वाटर स्पोर्ट्स में किसी भी बिधा का कम उम्र में और सामान्य खिलाड़ियों में यह पहिला गोल्ड है। किशोरी स्पोर्ट्स क्लव और बोट क्लव सरक्षक राधेगोपाल यादव की पुत्री तथा स्पोर्ट्स के लिए परिवार को राह दिखाने बाले हरिवीर सिंह यादव की नातिन है श्रेया यादव। श्रेया के इस मैडल पर पूरे शहर ने बधाई दी है। श्रेया के आदर्श उनके बाबा दादी ,माता पिता और पूर्व कलेक्टर इलैया सर है,। यह पहला मैडल अपने कोच और अपनी मातृभूमि को समर्पित है। लक्ष्य सीघ्र ही अंतर राष्ट्रीय स्तर पर जाकर अपने शहर ,प्रदेश राष्ट्र के लिए मैडल लाना है। विधायक संजीव सिंह कुशवाह , dso अरुण सिंह,आलोक देपुरिया ,डॉ जे.पी.एस. कुशवाह , डॉ शेलेलेंद्र जी ,कर्नल भारत सिंह यादव, जीवन सिंह जादोन् सहित सभी शहर बासियों ने बधाई दी है। - Bhaskar Crime

Breaking

सातवी राष्ट्रीय कैनो सलालम प्रतियोगिता में भिंड की श्रेया यादव सबसे कम उम्र की गोल्ड मेडल जीतने बाली खिलाड़ी बनी। यह प्रतियोगिता महेष्वर में सहस्त्र धारा पर सम्पन्न हुई। इसमें 9 प्रदेशों के 97 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। उनमें से सबसे कम उम्र के खिलाड़ियों में से श्रेया एक थी। वह इलैया राजा सर को अपना आदर्श मानती है। यह खेल वॉटर स्पोर्ट का सबसे कठिन और रोमांचकारी खेल है इसे बाइल्ड गेम यानी जंगली गेम जाना जाता है। इसमें सदैव दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। वाटर स्पोर्ट्स में किसी भी बिधा का कम उम्र में और सामान्य खिलाड़ियों में यह पहिला गोल्ड है। किशोरी स्पोर्ट्स क्लव और बोट क्लव सरक्षक राधेगोपाल यादव की पुत्री तथा स्पोर्ट्स के लिए परिवार को राह दिखाने बाले हरिवीर सिंह यादव की नातिन है श्रेया यादव। श्रेया के इस मैडल पर पूरे शहर ने बधाई दी है। श्रेया के आदर्श उनके बाबा दादी ,माता पिता और पूर्व कलेक्टर इलैया सर है,। यह पहला मैडल अपने कोच और अपनी मातृभूमि को समर्पित है। लक्ष्य सीघ्र ही अंतर राष्ट्रीय स्तर पर जाकर अपने शहर ,प्रदेश राष्ट्र के लिए मैडल लाना है। विधायक संजीव सिंह कुशवाह , dso अरुण सिंह,आलोक देपुरिया ,डॉ जे.पी.एस. कुशवाह , डॉ शेलेलेंद्र जी ,कर्नल भारत सिंह यादव, जीवन सिंह जादोन् सहित सभी शहर बासियों ने बधाई दी है।

सातवी राष्ट्रीय कैनो सलालम प्रतियोगिता में भिंड की श्रेया यादव सबसे कम उम्र की  गोल्ड मेडल जीतने  बाली खिलाड़ी बनी।
यह प्रतियोगिता महेष्वर में सहस्त्र धारा  पर सम्पन्न हुई।
इसमें 9 प्रदेशों के 97 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया।
उनमें से सबसे कम उम्र के खिलाड़ियों में से श्रेया एक थी।
वह इलैया राजा सर को अपना आदर्श मानती है।
यह खेल वॉटर स्पोर्ट का सबसे कठिन और रोमांचकारी खेल है
इसे बाइल्ड गेम यानी जंगली गेम जाना जाता है।
इसमें सदैव दुर्घटना की संभावना बनी रहती है।
वाटर स्पोर्ट्स में किसी भी बिधा का कम उम्र में और सामान्य खिलाड़ियों में यह पहिला गोल्ड है।
किशोरी स्पोर्ट्स क्लव और बोट क्लव सरक्षक राधेगोपाल यादव की पुत्री तथा स्पोर्ट्स के लिए परिवार को राह दिखाने बाले हरिवीर सिंह यादव की नातिन है श्रेया यादव।
श्रेया के इस मैडल पर पूरे शहर ने बधाई दी है।
श्रेया के आदर्श उनके बाबा दादी ,माता  पिता और पूर्व कलेक्टर इलैया सर है,।
यह पहला मैडल अपने कोच और अपनी मातृभूमि को समर्पित  है।
 लक्ष्य सीघ्र ही अंतर राष्ट्रीय स्तर पर जाकर अपने शहर ,प्रदेश राष्ट्र के लिए मैडल लाना है।
  विधायक संजीव सिंह कुशवाह , dso अरुण सिंह,आलोक देपुरिया ,डॉ  जे.पी.एस. कुशवाह , डॉ शेलेलेंद्र जी ,कर्नल भारत सिंह यादव, जीवन सिंह जादोन् सहित सभी शहर बासियों ने बधाई दी है।