किसानों को उद्यानिकी फसलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करें - सचिन यादव किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री ने अधिकारियों को दिए निर्देश - Bhaskar Crime

Breaking

किसानों को उद्यानिकी फसलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करें - सचिन यादव किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री ने अधिकारियों को दिए निर्देश


किसानों को उद्यानिकी फसलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करें - सचिन यादव
किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री ने अधिकारियों को दिए निर्देश

जबलपुर - किसान कल्याण एवं कृषि विकास, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण मंत्री सचिन सुभाष यादव ने अधिकारियों को किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए परम्परागत खेती के बजाए उन्हें अंतरवर्तीय फसलोत्पादन हेतु प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। उन्होंने फल व सब्जी जैसी उद्यानिकी फसलों के रकबे को बढ़ाने के खास निर्देश दिए। मंत्री श्री यादव ने तदाशय के निर्देश आज यहां जबलपुर संभाग के सभी जिलों के कृषि, उद्यानिकी, मण्डी बोर्ड, कृषि अभियांत्रिकी, बीज प्रमाणीकरण संस्थाओं, एमपी एग्रो और बीज प्रक्षेत्र विकास निगम के कार्यों की समीक्षा के दौरान दिए।
किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री सचिन सुभाष यादव ने किसानों के लिए खाद-बीज की सुगम उपलब्धता और किसानों को जरूरी सामयिक सलाह मुहैया कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अमानक स्तर के खाद, बीज और कीटनाशक दवाईयों के विक्रेताओं और निर्माताओं के विरूद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई करें। नमूनों का संकलन करें इनका परीक्षण कराएं और अमानक पाए जाने पर विधि सम्मत कार्रवाई करें। उन्होंने दो टूक लहजे में कहा कि गुणवत्ता जांच में कोताही बरतने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा। श्री यादव ने कहा कि किसानों को फसलों में रासायनिक उर्वरक का ओवर डोज नहीं डालने की सलाह भी मैदानी अधिकारी दें। उन्होंने बढ़ते कृषि उत्पादन को देखते हुए इसके सुरक्षित व व्यवस्थित भण्डारण व प्रसंस्करण यूनिट लगाने की व्यापक कार्ययोजना बनाने की हिदायत दी। ताकि किसानों के खून-पसीने से उपजी फसल को बर्बाद होने से बचाया जा सके। इससे किसानों को अपने खेतों में उपजी फसल का वाजिब मूल्य मिल सकेगा और किसान की आय बढ़ेगी और किसान खुशहाल बनेगा।
किसान कल्याण मंत्री श्री यादव ने उद्यानिकी विभाग की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे हर जिले और हर कृषि मण्डी क्षेत्र में उद्यानिकी की ज्यादा पैदावार वाली खास फसलों का चिन्हांकन करें। जिससे संबंधित उद्यानिकी उत्पादों के लिए प्रोसेसिंग यूनिट लगाई जा सके। उन्होंने कहा कि अधिक फसल उत्पादन वाले क्षेत्रों का चिन्हीकरण करें और ऐसे क्लस्टरों में कस्टम हायरिंग सेंटर को प्राथमिकता दें और कृषि अधिकारी किसानों के ज्यादा करीब पहुंचने का प्रयास करें। मंत्री श्री यादव ने कहा कि उपार्जित धान का उठाव हरहाल में 72 घंटे के भीतर कराना सुनिश्चित करें।
किसान कल्याण मंत्री सचिन यादव ने मण्डी अधिकारियों को निर्देशित किया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा जबलपुर के तेवर सहित छिंदवाड़ा जिले के अमरवाड़ा, जुन्नारदेव और सौंसर में नवीन मण्डी स्थापित करने की घोषणा के शीघ्र पूर्ति की दिशा में प्रभावी कार्यवाही करें। इन कृषि मण्डियों के भूमि आवंटन के मामले का शीघ्रातिशीघ्र निराकरण कराएं।
बैठक के पूर्व मंत्री श्री यादव ने अधारताल स्थित संभाग स्तरीय बीज गुण नियंत्रण प्रयोगशाला, कीटनाशक नियंत्रण प्रयोगशाला और उर्वरक गुण नियंत्रण प्रयोगशाला का निरीक्षण किया। उन्होंने उखरी रोड स्थित केन्द्रीय रीजनल सेंटर ऑफ आर्गेनिक फार्मिंग का भी अवलोकन किया। इस दौरान संयुक्त संचालक कृषि श्री नेताम, सहायक संचालक कृषि सुश्री रचना, संयुक्त संचालक उद्यानिकी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।