छीने हुये सामान साहित नगदी 19 हजार रूपये एवं घटना मे प्रयुक्त मोटर सायकिल जप्त* - Bhaskar Crime

Breaking

छीने हुये सामान साहित नगदी 19 हजार रूपये एवं घटना मे प्रयुक्त मोटर सायकिल जप्त*

*👉🏿फायनेंस कम्पनी के फील्ड आफिसर से मोबाईल, पर्स एवं बेैग जिसमें टैब व स्कैनर व नगदी रूपये रखे थे, छीनने वाले मोटर सायकिल सवार तीनों लुटेरे पुलिस गिरफ्त में*

       
            थाना कुण्डम में दिनांक 07-07-2020 की शाम लगभग 4-45 बजे मनीष चड़ार उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम मुआर घाट थाना गोटेगांव जिला नरसिंहपुर, हाल निवासी  ग्राम सरसवां, कुण्डम ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि वह भारत फायनेंस लिमिटेड की शाखा कुण्डम मंे फील्ड आफिसर के पद में काम करता है   सुबह लगभग 7-30 बजे कुण्डम से नेगई गांव के समूह की मीटिंग में गया था जहाॅ से मीटिंग खत्म कर लगभग 9 बजे समूह की दूसरी मीटिंग ग्राम खिन्हा में अटेंड करने के बाद उसके मोबाइल में फोन आया कि मैं एच. आर. से रमन बोल रहा हूॅं तुम्हारा आफिस का आॅडिट होना है तुम अभी कहां पर हो तो उसने कहा कि मैं खिन्हा गंाव मंे मीटिंग खत्म कर ग्राम बिलटुकरी जाउंगा, सुबह लगभग 10 बजे वह ग्राम खिन्हा से बिलटुकरी के लिये निकला था पानी गिरने लगा तो वह बरसाती पहनने के लिये निवास रोड पिपरिया तिराहे के आगे मकान के पहले पेड़ के नीचे खडा हो गया तभी पीछे से 3 व्यक्ति पल्सर मोटर सायकिल से आये, जैसे ही  वह अपना मोबाइल निकालने के लिये हुआ तो एक व्यक्ति ने   उसका हाथ पकड़ कर मोड़ दिया तभी दूसरे ने उसके जेब से पर्स निकाल लिया तथा मोटर सायकिल की चाबी निकालते हुये उसका बैग एवं नोकिया कम्पनी का मोबाइल फोन लेकर अपनी मोटर सायकिल से आगे तरफ भाग गये, उसका मोबाईल नोकिया कम्पनी का था  एवं उसके पर्स में लगभग 250 रूपये, आईडी कागजात तथा  बैग में लगभग 31 हजार 370 रूपये एवं सेमसंग कम्पनी का टेब व स्केनर था सभी सामान कीमती लगभग 20 हजार रूपये का होगा। तीनो में एक की उम्र 30 वर्ष तथा दो की उम्र 25-28 वर्ष होगी। ब्लेक कलर की पल्सर मोटर सायकल का नम्बर नहीं मालूम है।  रिपोर्ट पर धारा 392, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
                        पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा घटित हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपियों की पतासाजी के सम्बंध में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये आरोपियों की अविलम्ब गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री शिवेश सिंह बघेल एवं  अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री गोपाल प्रसाद खाण्डेल  तथा उप पुलिस अधाीक्षक ग्रामीण सुश्री अपूर्वा किलेदार द्वारा थाना प्रभारी कुण्डम श्री प्रताप सिंह मरकाम के नेतृत्व में थाना कुण्डम स्टाफ एवं क्राईम ब्रांच  की टीम को लगाया गया।
                 गठित टीम द्वारा सायबर सेल टीम की मदद से पतासाजी करते हुये 1-दीपू उर्फ राजेन्द्र पिता अजय पटेल उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम बीछी, मझोली, आकाश पिता नोनेलाल चैधरी उम्र 23 वर्ष निवासी ग्राम सूरतलाई माढेाताल, सूरज पिता मुन्नालाल चैधरी  उम्र 21 वर्ष निवासी चमन नगर स्टार सिटी माढेाताल को पकड़ा गया, एवं सघन पूछताछ की गयी तो तीनों ने मिलकर घटना दिनाॅक को लूट करना स्वीकार किया।
               दीपू उर्फ राजेन्द्र पटेल ने बताया कि वह पूर्व में लगभग 4 वर्ष माईक्रो फायनेंस कम्पनी में काम कर चुका है, कम्पनी के लड़को के द्वारा काम करने का तरीका उसे मालूम था तथा यह भी मालूम था कि कम्पनी के लडके गाॅव-गाॅव जाकर दिये हुये लोन का पैसा कलैक्ट करते हैं, । वह जानता था कि मनीष चडार भारत फायनेंस कम्पनी में काम करता है, आकाश की सिम सूरज के मोबाईल में लगाकर उसने मनीष चडार से बात कर लोकेशन पूछा एवं योजना के मुताबिक सूरज चैधरी की पल्सर मोटर सायकिल की नम्बर प्लेट निकाल कर, उक्त मोटर सायकिल में अपने साथी आकाश एवं सूरज के साथ निवास रोड पिपरिया तिराहे के आगे मकान के पहले पेड़ के नीचे पहुंच कर, मनीष चडार से मोबाईल, बैग एवं पर्स छीनकर  भागकर बरेला धनपुरी निवास रोड पर पहुंचकर बैग में रखा टैब एवं नगदी रूपये निकालकर बैग को झाडियों में छिपाकर भाग गये थे। आरोपियो की निशादेही पर छिपाया हुआ बैग जिसमे कम्पनी सम्बंधी दस्तावेज थे तथा छीना हुआ नोकिया कम्पनी का मोबाईल एवं बैग मे रखा हुआ टैब, स्कैनर तथा छीने हुये रूपयों में से नगदी 19 हजार रूपये जप्त किये गये है, शेष रूपये  खर्च कर देना बताया जा रहा है, सभी से और भी वारदातों के सम्बंध मंे पूछताछ जारी है। 
 *उल्लेखनीय भूमिका-* पतासाजी कर लूट के आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी कुण्डम श्री प्रताप सिंह मरकाम, क्राईम ब्रांच के सउनि गेापाल विश्वकर्मा, प्रधान आरक्षक मृदुलेश शर्मा, आरक्षक रवि सागर पाण्डे, अनूप सिंह, महेश कहार, मानस उपाध्याय एवं सायबर सेल के आरक्षक आदित्य परस्ते, दुर्गेश दुबे थाना कुण्डम के आरक्षक आनंद गंगाराम, विश्राम एवं तिवारी सिंह मरावी की विशेष भूमिका रही।  पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने टीम को 10 हजार रूपये के नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।