सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की समीक्षा - Bhaskar Crime

Breaking

सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की समीक्षा



कलेक्टर श्री भरत यादव की अध्यक्षता में आज लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक कलेक्टर सभागार में संपन्न हुई। 
   
बैठक में उन्होंने सी.एम. हेल्पलाइन, टीएल के प्रकरण, कोर्ट केस, वन अधिकार, राजस्व, खाद्यान्न वितरण, स्ट्रीट वेंडर के प्रकरणों के साथ स्वरोजगार योजना, 

अवैध शराब व भू माफियाओं पर कार्यवाही करने तथा संबल योजना पर चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

बैठक में उन्होंने विभागवार सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की समीक्षा की और संबंधित अधिकारियों से कहा कि सीएम हेल्पलाइन प्रकरण का प्रारंभिक स्तर पर ही निराकरण करायें।
बिजली बिल अधिक आने की शिकायत पर उन्होंने कहा कि संबंधित क्षेत्र के एसडीएम बड़ी जगह पर अपनी निगरानी में शिविर लगवाकर समस्या का निराकरण कराये।

स्वास्थ्य से जुड़ी शिकायतों व कोरोना नियंत्रण के लिए कलेक्टर ने कहा कि आयुर्विज्ञान के चिकित्सकों, अध्यापकों व नर्सेस की ड्यूटी लगा कर प्रकरणों का निराकरण करायें। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक आपदा के प्रकरणों को संवेदनशीलता से निराकरण करें। सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र का दौरा करें ,लोगों से  बात करें,फील्ड में जाने से नई-नई चीज सामने आती हैं, उन्हें निराकृत करे और देखें कि राशन का वितरण सही हो रहा है या नहीं, स्वास्थ्य सुविधाएं ठीक चल रही है या नहीं ।
श्री यादव ने लंबित पत्रों की समीक्षा के साथ वनाधिकार,कोर्ट केस के प्रकरण की समीक्षा की और कहा कि कोर्ट केस में जवाब दावे लगवाये, जो जवाब-दावे नहीं लगा रहे हैं, उन्हें नोटिस दें। 
   उन्होंने प्रवासी मजदूरों को रोजगार तथा 31 जुलाई तक किसानों की फसल बीमा कराने के निर्देश दिये और कहा कि गिरदावली सही हो, गिरदावली व खरीदी के डाटा में मिलान होना चाहिए जिससे खरीदी के समय सहूलियत होती है।
राजस्व के प्रकरणों की समीक्षा के दौरान उन्होंने सीमांकन, नामांतरण, बंटवारा का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये और कहा कि अब सीमांकन के लिए लोक सेवा केंद्रों में आवेदन लिए जायेंगे और सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की प्रगति पर चर्चा कर कहा कि जहां कहीं भी किसान के नाम, बैंक खाता, आईएफएससी,आधार नंबर गलत है उसे सुधार कर उसे योजना में शामिल करें।
कलेक्टर श्री यादव ने अवैध माइनिंग, अवैध मदिरा व चिटफंड कंपनियों पर कार्यवाही के निर्देश दिये और कहा कि चिटफंड कंपनियों की संपत्ति की पहचान करें ,उसे सील करें ताकि लोगों का पैसा लौटाया जा सके ।उन्होंने संबंधित अधिकारियों से कहा कि खाद्यान्न का वितरण व्यवस्थित हो और सभी पात्र कार्ड धारकों की आधार सीडिंग का कार्य हो जाये। स्ट्रीट वेंडर योजना में हितग्राहियों को लाभान्वित करें, इसके लिए उन्होंने संबंधित अधिकारी को बैंक से बात करने के लिए कहा इसमें ऑनलाइन कार्य में कहीं दिक्कत आती है तो जिला सूचना अधिकारी से संपर्क कर 15 अगस्त तक 50 प्रतिशत और 30 अगस्त तक शत प्रतिशत वितरण सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। बैठक में स्वरोजगार योजनाओं की प्रगति ,स्व सहायता समूह के प्रकरण को उच्च प्राथमिकता में वितरित करने, संबल योजना के तहत अनुग्रह व अंत्येष्टि राशि का समय पर भुगतान, सड़क दुर्घटना के प्रकरणों का निराकरण ,सभी पात्र व्यक्तियों के आयुष्मान कार्ड बनाने, कोरोना के साथ-साथ मलेरिया व  डेंगू के रोकथाम, पानी के सैंपल लेने तथा उसके उपचार, पशुपालकों को केसीसी कार्ड वितरण व कोरोना काल में सावधानी बरतते हुई कार्य करने, भीड़ भाड़ नहीं करने, राखी के बाजार में फिजिकल डिस्टेंसिंग रखने, राखी बेचने का बाजार खुली जगह पर रखने और जहां कोरोना के ज्यादा केस आ रहे हैं उसके आसपास के बाजार को बंद कर देने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी से सार्थक लाइव एप्प हडाउनलोड करने के लिए कहा और यह भी कहा कि टेस्ट से पहले क्वॉरेंटाइन बहुत जरूरी है और क्वॉरेंटाइन सेंटर में अनुशासनहीनता या लापरवाही पर जुर्माना करें। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन में सही तरीके से सैनिटाइजेशन व आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के साथ कोरोना कंट्रोल रूम को क्रियाशील करने के निर्देश दिये।