झोपड़ पट्टी में पुलिस का जुआ के फड़ पर छापा 1लाख 52 हजार एवं 9 मोबाइल जप्त 7 जुआरी गिरफ्तार, - Bhaskar Crime

Breaking

झोपड़ पट्टी में पुलिस का जुआ के फड़ पर छापा 1लाख 52 हजार एवं 9 मोबाइल जप्त 7 जुआरी गिरफ्तार,

थाना गोहलपुर अन्तर्गत क्राईम ब्रांच को  मुखबिर से सूचना मिली की गाजी नगर सामुदायिक भवन के पास झोपड़ पट्टी में कुछ जुआडियो के एकत्रित होकर जुआ फाड़ जमा हुआ है क्राईम ब्रांच एवं थाना गोहलपुर पुलिस  की संयुक्त टीम द्वारा सुवह लगभग 5 बजे सामुदायिक भवन के प झोपड़ पट्टी में   घेराबंदी कर   दबिश दिया

 जुआडियों एवं फड से 52 ताश पत्ते एवं नगदी 1 लाख 52 हजार 500 रुपये तथा 9  मोबाईल एवं नाल की पेटी जप्त करते हुये  जुआडियों द्वारा जिला दण्डाधिकारी जबलपुर के आदेश का उल्लंघन करना पाया जाने पर उपरोक्त जुआडियो के विरूद्ध जुआ एक्ट एवं 188 भा.द.वि. तथा महामारी अधिनियम एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई

 सिकन्दर खान उम्र 30 वर्ष निवासी मछरहाई मस्जिद के पास थाना लार्डगंज, महेन्द्र कुमार विश्वकर्मा उम्र 22 वर्ष निवासी परसवाड़ा कालोनी थाना संजीवनी नगर, कमलेश अहिरवार उम्र 24 वर्ष निवासी बालभवन के पास  थाना लार्डगंज, नासिर खान उम्र 54 वर्ष निवासी सूपाताल लड़िया मोहल्ला थाना गढ़ा, अजीत सोनकर उर्फ अप्पू सोनकर उम्र 32 वर्ष निवासी छोटी खेरमाई के सामने बड़ी ओमती भरतीपुर , बादल सिंह राजपूत उम्र 33 वर्ष निवासी मिश्री किराना के पीछे जायसवाल मोहल्ला थाना गोरखपुर, अनिल अहिरवार  उम्र 20 वर्ष निवासी नत्थूमल के पीछे जायसवाल मोहल्ला थाना गोरखपुर को बिजली के उजाले के नीचे ताश पत्तो की हार जीत का रूपये पैसों का दांव लगाते हुये जुआ खेलते रंगे हाथों पकडा,
पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री अमित कुमार (भा.पु.से.),  एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (अपराध) श्री गोपाल प्रसाद खाण्डेल
नगर पुलिस  अधीक्षक गोहलपुर श्री अखिलेश गौर  के निर्देशन में थाना प्रभारी गोहलपुर श्री आर.के. गोैतम के नेतृत्व में गठित थाना गोहलपुर स्टाफ एवं क्राईम ब्रांच की टीम को  7 जुआडियो को जुआ खेलते हुये रंगे हाथ पकडने एवं  नगदी 1 लाख 52 हजार रूपये तथा 9 मोबाईल जप्त किया
उल्लेखनीय भूमिका- जुआरियों जुआ खेलते हुये रंगे हाथ पकड़ने में थाना प्रभारी गोहलपुर श्री आर.के. गौतम उप निरीक्षक सरनाम सिंह, प्रधान आरक्षक विनोद सुरकेल, आरक्षक धीरेन्द्र, हुलेस, विनय एवं क्राईम ब्राच के सउनि राजेन्द्र बर्मन आरक्षक राधेश्याम दुबे, ओमनारायण, आनंद तिवारी,  महेन्द्र पटेल की सराहनीय भूमिका रही।