35 लाख लेकर भी कर रहा था पति पत्नी को ब्लैकमेल, जिम ट्रेनर का, पुलिस ने निकाला जुलूस - Bhaskar Crime

Breaking

35 लाख लेकर भी कर रहा था पति पत्नी को ब्लैकमेल, जिम ट्रेनर का, पुलिस ने निकाला जुलूस

मन्दसौर /आखिरकार पुलिस ने कट्टरपंथी मोहम्मद अल्ताफ उर्फ आर्यन चने वाला को जिम संचालक मुनव्वर के साथ गिरफ्तार कर मंदसौर की सड़कों पर जुलूस निकाला।
          

35 लाख लेकर भी कर रहा था पति पत्नी को ब्लैकमेल, पुलिस ने शहर के मार्गों से जुलूस निकालकर कोर्ट में पेश किया गया
 हालाँकि लॉक डाउन होने से जुलूस देखने वाली जनता सड़कों पर बहुत कम ही थी। शहर के टोटल फिटनेस जिम के संचालक मुनव्वर और जिम के ट्रेनर मोहम्मद अल्ताफ हुसैन को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है, इस लव जिहादी कट्टरपंथी ने मंदसौर के एक हंसते खेलते सभ्य सक्षम सामाजिक रूप से प्रतिष्ठित परिवार के युवा बेटे विश्वनाथ बागोरा को मौत के मुंह में पहुंचा दिया और उसकी पत्नी को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। ऐसे कट्टरपंथी तत्वों को सख्त से सख्त सजा होना चाहिए ताकि दूसरा कट्टरपंथी सबक ले सकें। इस मामले में विष्णु बागोरा की पत्नी ने खुद स्वीकार किया है कि इस कट्टरपंथी मोहम्मद अल्ताफ हुसैन से संबंध बन गए थे और पति को पता चलने के बाद इसको रिश्ता तोड़ने की एवज में पहले 2000000 और फिर 1500000 रुपए कुल 3500000 रुपए कट्टरपंथी अल्ताफ ले चुका था। इसके बाद भी ब्लैकमेल किये जा रहा था और रिश्ता तोड़ने को तैयार नहीं था, ऐसे हालात में सामाजिक प्रतिष्ठा धूमल होने और कट्टरपंथी की प्रताड़ना से तंग आकर विष्णु बागोरा ने आत्महत्या कर ली, एक परिवार इस कट्टरपंथी ने उजाड़ दिया। इसके कई हिन्दू महिलाओं से संपर्क मोबाइल के माध्यम से पता चले है, इस पर ऐसी धाराओं के तहत कार्रवाई होना चाहिए की जीवन में किसी का परिवार को उजाड़ने की जुर्रत न करें। इस वहशी के कारण विष्णु बागोरा के दो बच्चे एक बेटा और एक बेटी आज अनाथ हो गए, पिता दुनिया छोड़कर चले गए और मां जेल की सलाखों के पीछे, इन बच्चों का क्या दोष था ? कट्टरपंथी की एक हरकत ने पूरा परिवार बिखेर दिया।