- Bhaskar Crime

Breaking

जबलपुर/ कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने आज शाम मानस भवन के इंसीडेण्ट कमांडरों, रेपिड रेस्पांस टीमों के प्रभारी तथा नगर निगम के जोन अधिकारियों की बैठक लेकर उन्हें अपने-अपने क्षेत्र में कोरोना की रोकथाम के लिए किये जा रहे
कार्यों मॉनीटरिंग करने के निर्देश दिये हैं। श्री शर्मा ने बैठक में कहा कि कोरोना के संक्रमण की रोकथाम की जिम्मेदारी का निर्वाह मिल-जुलकर करना होगा और इस कार्य में लापरवाही या चूक स्वीकार नहीं की जायेगी।

कलेक्टर ने इंसीडेण्ट कमांडरों, आरआरटी प्रभारियों एवं जोन अधिकारियों को उनके क्षेत्र में कोरोना संदिग्ध मरीजों के सेम्पल लेने के कार्य से लेकर होम क्वारंटीन किये गए लोगों पर भी नजर रखने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर ने कहा कि उनके क्षेत्र में गंभीर रोगों से ग्रसित बुजुर्गों एवं हाईरिस्क व्यक्तियों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखने की जिम्मेदारी का निर्वाह भी इन अधिकारियों को करना होगा तथा उनके अधीनस्थ अमले के माध्यम से उनसे निरंतर संपर्क में भी रहना होगा।

श्री शर्मा ने बैठक में कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए नियुक्त अधिकारियों को फील्ड में लगातार भ्रमण करना होगा और उनके क्षेत्र में कार्यकर्ता इस कार्य में लगे अमले से निरंतर संपर्क में रहना होगा ताकि सेम्पल लेने तथा कॉटेक्ट ट्रेसिंग के दौरान उन्हें कोई कठिनाई आती है तो उसका तुरंत निराकरण किया जा सके। कलेक्टर ने कहा कि अधिकारियों को गंभीर बीमारियों से ग्रसित बुजुर्ग और कोरोना संदिग्ध रोगियों को घरों से निकालकर समय पर अस्पताल पहुंचाने के काम में भी मैदानी अमले की मदद करनी होगी। 
श्री शर्मा ने बैठक में मौजूद अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने की हिदायत भी दी। उन्होंने मास्क पहनने और फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश देते हुए कहा कि फील्ड स्तर का हर अधिकारी ऐसे लोगों पर जुर्माना लगाए और इसके बावजूद कोई नहीं मानता है तो उस पर एफआईआर भी दर्ज कराये। श्री शर्मा ने कहा कि ग्राहकों को बिना मास्क लगाकर प्रवेश करने की ईजाजत देने वाले दुकानदारों या व्यावसायिक संस्था के संचालकों पर भी कठोर कार्यवाही करें तथा उनकी दुकानें सील कर दें। उन्होंने बड़े व्यवसायियों पर पहले कार्यवाही करने के निर्देश भी दिये। 
श्री शर्मा ने बैठक में कंटेनमेंट जोन में ज्यादा सख्ती बरतने की हिदायत भी अधिकारियों को दी। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन की बंदिशों का सख्ती से पालन कराया जाना चाहिए। कंटेनमेंट जोन में किसी भी व्यक्ति वहां से बाहर निकलने या भीतर प्रवेश पर सख्ती से रोक लगानी होगी। उन्होंने घनी बस्ती वाले क्षेत्रों में कोरोना की रोकथाम पर विशेष ध्यान देने की हिदायत इन अधिकारियों को दी तथा कोरोना की रोकथाम एवं बचाव के उपायों के प्रति लोगों को जागरूक करने के निर्देश भी दिये।
त्यौहारों के दौरान भी कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करायें
बैठक में कलेक्टर श्री शर्मा ने गणेश उत्सव एवं मुहर्रम पर्व को लेकर भी अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रशासन एवं पुलिस अधिकारी समन्वय बनाकर यह सुनिश्चित करें कि त्यौहारों के दौरान कहीं भी सार्वजनिक स्थलों पर धार्मिक आयोजन न हो एवं जिनके द्वारा घरों पर भगवान श्री गणेश की प्रतिमा अथवा ताजिये की स्थापना की गई है उन्हें घरों में ही प्रतिमा एवं ताजियों के विसर्जन के लिए प्रेरित किया जाए।
बैठक में नगर निगम आयुक्त अनूप कुमार, अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, अपर कलेक्टर संदीप जीआर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अगम जैन, स्मार्ट सिटी के सीईओ आशीष पाठक तथा इंसीडेण्ट कमांडर नियुक्त किये गये सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार भी मौजूद थे।