सोशल मीडिया पर कल की गई एक पोस्ट चार साल के मासूम की मददगार साबित हुई - Bhaskar Crime

Breaking

सोशल मीडिया पर कल की गई एक पोस्ट चार साल के मासूम की मददगार साबित हुई

 जबलपुर  सोशल मीडिया पर कल की गई एक पोस्ट चार साल के मासूम रंजीत पटेल को अच्छा उपचार दिलाने में मददगार साबित हुई
ट्विटर यूजर हेल्पडेस्क इंडिया के एकाउंट पर ट्वीट के जरिये की गई इस पोस्ट में रसल चौक के समीप स्थित बच्चों के निजी अस्पताल में बेटे के मस्तिष्क की गम्भीर बीमारी का इलाज करा रहे एक पिता की व्यथा का उल्लेख किया गया था । कटनी जिले के रीठी तहसील के ग्राम खिरवाँ निवासी बच्चे के पिता भज्जू पटेल की ओर से किये गये इस ट्वीट में बेटे के चल रहे उपचार की जानकारी देते हुये मदद का आग्रह किया गया था । बेटे के उपचार पर जो कुछ था वो दो दिन में ही खर्च कर चुके इस पिता ने ट्वीट में बताया था कि अब आगे इलाज कराने के लिये उसके पैसा नहीं है । हेल्पडेस्क इंडिया के ट्विटर एकाउंट पर की गई इस अपील की जानकारी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को भी ट्वीट कर दी गई और उनसे मासूम की जान बचाने तुरन्त मदद करने का आग्रह किया । फिर क्या था एक बच्चे के उपचार में मदद करने की आग्रह वाली पिता की सोशल मीडिया पर देर रात की गई यह पोस्ट मुख्यमंत्री निवास से होते हुये कलेक्टर कर्मवीर शर्मा तक पहुँची । कलेक्टर श्री शर्मा ने भी इस मामले में बिल्कुल भी देर नहीं कि और तत्काल रसल चौक स्थित निजी अस्पताल में भर्ती इस बच्चे  के स्वास्थ के बारे में जानकारी जुटाई । उन्होंने देर रात को ही इस मासूम को बेहतर उपचार के लिये मेडिकल कॉलेज शिफ्ट कराया । मेडिकल कॉलेज पहुंचते ही बच्चे का उपचार भी प्रारम्भ हो गया । बच्चे के पिता भज्जू पटेल ने शासन और प्रशासन द्वारा बच्चे के बेहतर उपचार दिलाने की गई इस त्वरित कार्यवाही पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और जबलपुर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा का आभार जताया । उसने  कहा कि बेटे की जान बचाने के लिये मुख्यमंत्री श्री चौहान की तत्परता और संवेदनशीलता की तारीफ करने उसके पास कोई शब्द नहीं है ।
         इधर मेडिकल कॉलेज के पीडियाट्रिक आईसीयू वार्ड के यूनिट एक में भर्ती बच्चे के स्वास्थ के बारे में अस्पताल के चिकित्सकों ने बताया कि मस्तिष्क से जुड़ी बीमारी की वजह से बच्चा बेहोशी की हालत में है । जल्दी ही अस्पताल के न्यूरोसर्जरी विभाग में उसका आपरेशन भी किया जाएगा ।