कंट्रोल रूम में बैठक,कोरोना,संक्रमण की रोकथाम व बचाव को लेकर रणनीति तैयार किया - Bhaskar Crime

Breaking

कंट्रोल रूम में बैठक,कोरोना,संक्रमण की रोकथाम व बचाव को लेकर रणनीति तैयार किया

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा की अध्यक्षता में आज कोविड संक्रमण की रोकथाम व बचाव को लेकर कोरोना कंट्रोल रूम दमोह नाका में बैठक की गई।
कलेक्टर श्री शर्मा ने बढ़ते कोरोना संक्रमण की रोकथाम व बचाव के लिए नई रणनीति के तहत  स्पेशल प्लान पर चर्चा कर कहा कि संक्रमित मरीज की पहचान 10 से 15 घंटे के अंदर कर उसे शीघ्र उपचार सुनिश्चित कराना है
 संबंधित मरीज की जानकारी फीवर क्लिक सेंटर में एंट्री भी हो और वहीं से डिसीजन हो कि उक्त मरीज को होम आइसोलेशन में रखना है या हॉस्पिटल में। मरीज को लाने के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था  तत्काल उपलब्ध हो। इस दौरान  उन्होंने कहा कि होमआइसोलेशन को प्रमोट करना है किंतु हाई रिस्क व को-मोरबीडिटी को होमआइसोलेशन में न रखे।
कलेक्टर श्री शर्मा ने फीवर क्लीनिक को सशक्त व मजबूत करने पर जोर दिया और कहा कि फीवर क्लिनिक में जितना अच्छा काम होगा, कंट्रोल रूम उतना ही सशक्त होगा। उन्होंने कहा कि रैपिड रिस्पांस टीम और मेडिकल मोबाइल यूनिट के बैरियर को हटाकर उनमें एकरूपता लाएं और नई रणनीति के तहत टीम से काम लें यदि मानव संसाधन की कमी आती है तो आईटीआई ,इंजीनियरिंग कॉलेज व स्कूल के स्टाफ को इस काम में लगाया जाए। कोरोनाकंट्रोल के नए सेटअप के अंतर्गत कहा गया कि एक डॉक्टर कम से कम 8 घंटे काम करें और होम आइसोलेट मरीजों की जानकारी भी कलेक्ट करें और आवश्यक उपचार सुनिश्चित कराये। इसके लिये 15 डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई जाये और उनके लिये स्थान नियत किया जाये। साथ ही फीवर क्लीनिक में तैनात स्टॉफ  की ट्रेनिंग सुनिश्चित किया जाये और हर संभव तरीके से कोविड नियंत्रण की दिशा में कार्य करें।
बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री प्रियंक मिश्र, अपर कलेक्टर श्री हर्ष दीक्षित सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।