भू-खण्ड के विवाद का दो पक्षकारों के बीच के विवाद का आपसी समझौते से निराकरण किया - Bhaskar Crime

Breaking

भू-खण्ड के विवाद का दो पक्षकारों के बीच के विवाद का आपसी समझौते से निराकरण किया

 नर्मदा ग्रीन वैली कॉलोनी में भूखण्ड को लेकर दो पक्षकारों के बीच के विवाद का आपसी समझौते 


आपसी समझौते से भू-खण्ड के विवाद का निपटारा करा पेश की अनुकरणीय मिसाल.


तहसीलदार कोर्ट द्वारा इस निर्माण हटाने के निर्देश नरेंद्र यादव को दिये गये 

जबलपुर - तिलवारा पुल के पास चरगवां मोड़ पर  नेशनल हाइवे मद की शासकीय भूमि से अवैध कब्जे हटाने गये प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने समीप में ही स्थित नर्मदा ग्रीन वैली कॉलोनी में भूखण्ड को लेकर दो पक्षकारों के बीच के विवाद का आपसी समझौते से निराकरण कर त्वरित न्याय दिलाने की अनुकरणीय मिसाल पेश की है । भूखण्ड को लेकर यह विवाद ग्रीन वैली में ही निवास कर रहे नरेंद्र यादव और अहिंसा चौक विजय नगर निवासी रामकिशोर त्रिपाठी के बीच था । रामकिशोर त्रिपाठी ने तहसीलदार जबलपुर के न्यायालय में उसके पन्द्रह गुना पचास वर्गफुट भूखंड पर नरेंद्र यादव द्वारा कब्जा कर निर्माण प्रारम्भ करने की शिकायत की थी और इस पर रोक लगाने का आवेदन दिया था  । तहसीलदार कोर्ट द्वारा रामकिशोर त्रिपाठी के दावे को सही मानकर उसके भूखण्ड पर किये गये निर्माण रोकने के आदेश नरेंद्र यादव को दिये गये थे । लेकिन निर्माण कार्य नहीं रोका गया । बाद में तहसीलदार कोर्ट द्वारा इस निर्माण हटाने के निर्देश नरेंद्र यादव को दिये गये । समय सीमा बीत जाने के बाद जेसीबी मशीनों के साथ प्रशासन का अमला आज इस अवैध कब्जे को ध्वस्त करने वहाँ पहुँचा तब दोनों पक्षों के बीच आपस में समझौता कराने के प्रयास एसडीएम नमः शिवाय अरजरिया एवं सीएसपी बरगी रवि चौहान द्वारा किये गये । इन अधिकारियों ने किसी भी पक्ष को नुकसान न हो इस नजरिये से दोनों को समझाइश और इसका असर भी तुरन्त दिखाई दिया । नरेंद्र ने रामकिशोर की उस भूखंड की कीमत चुकाने का वादा अधिकारियों से किया जिस पर उसने निर्माण कर लिया था । रामकिशोर ने भी  भूखंड का पैसा मिलते ही रजिस्ट्री नरेंद्र के नाम करने की फौरन अपनी सहमति व्यक्त की । प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों ने मौके पर ही नरेंद्र भूखण्ड की कीमत के चेक रामकिशोर को देने सुझाव दिया । नरेंद्र ने अधिकारियों की इस सलाह को मानकर पाँच-पाँच लाख रुपये के दो चेक रामकिशोर को सौपें । इस मौके पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल, तहसीलदार नीता कोरी और स्थानीय निवासी भी मौजूद थे । मामले का सौहार्द्रपूर्ण पटाक्षेप होने पर सभी ने प्रसन्न्ता व्यक्त की तथा प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियों द्वारा विवाद का निराकरण आपसी समझौते से कराने के इस प्रयास की भी जमकर तारीफ की ।