निगमायुक्त ने थमाया नोटिस उपायुक्त की लापरवाही अनुशासनहीनता की श्रेणी है - Bhaskar Crime

Breaking

निगमायुक्त ने थमाया नोटिस उपायुक्त की लापरवाही अनुशासनहीनता की श्रेणी है

 स्वनिधि योजना की समीक्षा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद कर रहे हैं

जबलपुर में उपायुक्त ने की लापरवाही, निगमायुक्त ने थमाया नोटिस


अधिकारियों द्वारा फोन करने पर उपायुक्त ने उनका फोन भी नहीं उठाया

आदेशाें की नाफरमानी करने वाली एक उपायुक्‍त को निगमायुक्त ने नोटिस जारी किया है। 

इस लापरवाही को अनुशासनहीनता की श्रेणी में लिया गया है

जबलपुर, नगर निगम आयुक्त के आदेशों की नाफरमानी और मोबाइल फोन में बजने वाली घंटी की अनदेखी उपायुक्त को महंगी पड़ गई। निगमायुक्त ने इस लापरवाही को अनुशासनहीनता के श्रेणी में लेते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है।

                *खुद मुख्‍यमंत्री कर रहे समीक्षा*

पीएम स्वनिधि योजना की समीक्षा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद कर रहे हैं। उनके द्वारा सभी नगर निगम को निर्देश दिए जा रहे हैं कि लक्ष्य की पूर्ति समय पर की जाए। इसके बाद भी योजना प्रभारी नगर निगम उपायुक्त अंजु सिंह द्वारा योजना की दैनिक प्रगति रिपोर्ट निगमायुक्त को नहीं सौंपी जा रही है। जबकि इसको लेकर निगमायुक्त पूर्व में ही निर्देश जारी कर चुके हैं कि योजना लिपिक या सामुदायिक संगठक की दैनिक प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। इसके बावजूद उन्होंने अभी तक कोई रिपोर्ट पेश नहीं की।

*पलटकर नहीं लगाया फोन*

इतना ही नहीं रिपोर्ट के संबंध में जानकारी लेने जब अधिकारियों द्वारा फोन करने पर उपायुक्त ने उनका फोन भी नहीं उठाया ना ही पलट कर किसी को फोन लगाकर जानकारी दी। पीएम स्वनिधि योजना में लगातार की जा रही लापरवाही को लेकर नाराज निगमायुक्त ने आखिरकार उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। निगमायुक्त ने नोटिस के माध्यम से कहा कि योजना की रिपोर्ट दैनिक रूप से उन्हें दी जाए। इसके साथ ही काम में तेजी लाकर लक्ष्य को समय पर पूरा करें। ऐसा न होने पर उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सकती है। विदित हो कि पीएम स्वनिधि योजना के तहत पात्र हितग्राहियों को बैंकों के माध्यम से 10 हजार रुपये का ऋण दिया जाना है। लेकिन इस काम में बैंकों की मदद न मिलने से योजना का जो लक्ष्य निर्धारित किया गया है वह पूरा नहीं हो पा रहा है।