रेत माफियाओं का चाणक दिमाग ड्रम और पाइप के सहारे माफिया का कारोबार - Bhaskar Crime

Breaking

रेत माफियाओं का चाणक दिमाग ड्रम और पाइप के सहारे माफिया का कारोबार

 हिरन नदी से मोटर बोट में हाई-फाई डिवाईस लगाकर अवैध रूप से निकाली जा रही थी रेत

इमलिया घाट से अवेैध रेत का उत्खन्न करते हुये हाईफाई डिवाईस लगी हुयी दो मोटर बोट पकड़ी

हाई-फाई डिवाइस लगी दो मोटर बोट तथा सोलह ड्रम एवं पन्द्रह-पन्द्रह फिट लंबे लोहे के सात पाईप जप्त

थाना प्रभारी पनागर आर.के. सोनी के द्वारा हमराह स्टाफ को लेकर घेराबंदी करते हुये दबिश दी गयी ।

सोलह  ड्रम एवं 15-15 फिट लंबे लोहे के सात पाइप जप्त किये गये 


जबलपुर   खनन माफिया के विरुद्ध कलेक्टर IAS कर्मवीर शर्मा एवं पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर चलाये जा रहे अभियान के तहत आज सोमवार को राजस्व विभाग, पुलिस एवं खनिज विभाग द्वारा सयुंक्त रूप से की गई कार्यवाही में पनागर तहसील के अंतर्गत हिरन नदी के इमलिया घाट से अवेैध रेत का उत्खन्न करते हुये हाईफाई डिवाईस लगी हुयी दो मोटर बोट पकड़ी गयी हैं।

             इस कार्यवाही की शुरुआत पुलिस द्वारा की गई थी । पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि थाना पनागर अन्तर्गत हिरण नदी के इमलिया घाट में मोटर बोट में हाई-फाई डिवाईस लगाकर रेत निकाली जा रही है । सूचना पर तत्काल थाना प्रभारी पनागर आर.के. सोनी के द्वारा हमराह स्टाफ को लेकर घेराबंदी करते हुये दबिश दी गयी । इस दौरान मोटर बोट मे फिट हाई-फाई डिवाईस के माध्यम से पाईप के सहारे घाट के किनारे रेत निकाली जा रही थी । पुलिस को देखकर अवैध उत्खनन के कार्य मे लगे सभी व्यक्ति भागने में सफल हो गये । मौके से ही पुलिस द्वारा राजस्व विभाग एवं खनिज विभाग को सूचना दी गई । राजस्व एवं खनिज विभाग के अधिकारियों द्वारा हाई-फाई डिवाइस लगी दो मोटर बोट, सोलह  ड्रम एवं 15-15 फिट लंबे लोहे के सात पाइप जप्त किये गये । पुलिस द्वारा की गई प्रारम्भिक पूछताछ पर दोनों मोटर बोट दीपू पटैल निवासी सिंगलदीप की होने एवं अवैध रेत का उत्खन्न कराने की जानकारी  प्राप्त हुई ।  पुलिस द्वारा इसकी तस्दीक की जा रही है । उल्लेखनीय है कि दीपू पटैल पूर्व में भी रेत का अवैध उत्खन्न एवं परिवहन करते हुये पकड़ा जा चुका है ।

            इनके द्वारा कार्यवाही थाना प्रभारी पनागर आर.के.सोनी, नायब तहसीलदार पनागर प्रीति नागेन्द्र, खनिज निरीक्षक देवेंद्र पटले मौजूद थे ।  पुलिस उप निरीक्षक आकाशदीप एवं अम्बुज पाण्डे, प्रधान आरक्षक संतोष पाण्डे, आरक्षक विनय जयसवाल, लवकुश, रामाशीष, नरेन्द्र की इस कार्यवाही में सराहनीय भूमिका रही।