शिक्षकों को सेवाएं कोरोना योद्धा के रूप में ली जा रही हैं उन्हें कोरोना योद्धा नहीं माना जा रहा है - Bhaskar Crime

Breaking

शिक्षकों को सेवाएं कोरोना योद्धा के रूप में ली जा रही हैं उन्हें कोरोना योद्धा नहीं माना जा रहा है

 शिक्षकों को भी कोरोना योद्धा घोषित किया जा

निशुल्क इलाज सहित सुविधाएं प्रदान की जाएंगी और यदि कर्मचारी की कोरोना से मृत्यु हो जाती है


 तो उसे ₹5000000 का बीमा कराते हुए उसके आश्रितों को यह राशि प्रदान कि जाना है

विभागों के कर्मचारी जिनकी सेवाएं कोरोना योद्धा के रूप में ली जा रही हैं उन्हें कोरोना योद्धा नहीं माना जा रहा है 

Jabalpur मध्य प्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ अजाक्स के जिला अध्यक्ष योगेश चौधरी ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि जबलपुर जिले के समस्त शिक्षकों को जिनकी कोरोना ड्यूटी लगाई गई है उन्हें पूर्णा योद्धा घोषित किया जाए तथा उनका बीमा कराते हुए उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाए ।

इस आशय की मांग जबलपुर जिले के कलेक्टर से की गई है जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि वैश्विक महामारी कोरोना की रोकथाम के लिए जिला कलेक्टर के आदेश से शिक्षा विभाग में कार्यरत समस्त शिक्षक एवं शैक्षणिक संवर्ग के समस्त शिक्षकों की सेवाएं कोरोना कंट्रोल रूम सहित कोरोना के लिए डोर टू डोर किए जा रहे सर्वे में लगाई गई है किंतु जबलपुर जिले के कलेक्टर द्वारा उन्हें कोरोना योद्धा का दर्जा नहीं दिया गया है जबकि जबलपुर जिले से ही लगे हुए कटनी नरसिंहपुर मंडला छिंदवाड़ा बालाघाट उज्जैन भोपाल सहित अन्य जिलों में जिला कलेक्टर ने समस्त कर्मचारियों जिन की सेवाएं कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए ली जा रही हैं उन्हें कोरोना योद्धा घोषित करते हुए उन्हें सुरक्षा प्रदान करने संबंधी आदेश जारी किए गए हैं साथ ही कोरोना योद्धा के रूप में कार्य करते हुए अगर किसी कर्मचारी को कोरोना संक्रमण होता है तो उसे निशुल्क इलाज सहित सुविधाएं प्रदान की जाएंगी और यदि कर्मचारी की कोरोना से मृत्यु हो जाती है तो उसे ₹5000000 का बीमा कराते हुए उसके आश्रितों को यह राशि प्रदान कि जाना है लेकिन जबलपुर जिले के कलेक्टर महोदय ने जबलपुर जिले के शिक्षा विभाग सहित अन्य विभागों के कर्मचारी जिनकी सेवाएं कोरोना योद्धा के रूप में ली जा रही हैं उन्हें कोरोना योद्धा नहीं माना जा रहा है और उनसे बिना किसी सुरक्षा के सेवाएं ली जा रही हैं। ‌     संघ के अजय सोनकर, राजेन्द्र तेकाम, योगेश चौधरी,दालचंद पासी, धर्मेंद्र कुकरेले, अनिल दाहिया, घनश्याम अहिरवार, नेतराम झारिया,बी.देवराज, तुलसी राम तेकाम, इन्द्र जीत सिंह, रविशंकर कोरी, किशोरी लाल मरकाम, नरेन्द्र उइके, अनिल सोनकर, रामाधार चौधरी, शिवकुमार पटारिया, रामरतन नरवरिया, मूलचंद अहिरवार, अनूप सिंह धुर्वे, मथुरा झारिया आदि ने जबलपुर जिले के कलेक्टर महोदय से सभी कर्मचारियों जिनकी सेवाएं कोरोना काल में ली जा रही है उन्हें कोरोना योद्धा घोषित करने संबंधी आदेश तत्काल जारी करते हुए कर्मचारियों को सुरक्षा प्रदान की जाना चाहिए