- Bhaskar Crime

Breaking

 स्वास्थ्य विभाग मिशन संचालक के आदेश की अवहेलना कर रहे  आदेश के बाद भी अधिकारियों ने संरक्षण दिया है


संदेह है की भ्रष्टाचार में लिप्त विभागीय कर्मचारी अधिकरी कही जांच मे लीपापोती न कर दे

 सी.एम.एच.ओ.सेनेटाईजर खरीददारी एवं आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय में कमीशन खोरी में लिप्त दोषियों की जांच के चलते भी उसी स्थान पर बैठ कर ड्यूटी कर रहा है


आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय,  कोविड स्टाफ नर्स भर्ती में धांधली

स्वास्थ्य विभाग मिशन संचालक के आदेश



 जबलपुर/मध्य प्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ अजाक्स जिला जबलपुर ने जारी विज्ञप्ति कर बताया है कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय जिला जबलपुर में डी.सी.एम. प्रवीण सोनी एवं डी.पी.एम. सुभाष शुक्ला के द्वारा सैनिटाइजर  एवं अन्य खरीदारी के साथ आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय,  कोविड स्टाफ नर्स भर्ती में धांधली   और भी अन्य कार्यों में कमीशन खोरी करते हुए भ्रष्टाचार की शिकायत होने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से प्रभार मुक्त कर दिया गया 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा एक विभागीय जांच समिति का गठन किया गया जिस पर संघ की मांग पर मिशन संचालक भोपाल के द्वारा तत्काल प्रभाव से दिनांक 04/05/2021 को प्रवीण सोनी को क्षेत्रीय संचालक स्वास्थ्य के लिए आदेश जारी किया गया था परन्तु आज दिनांक तक उन्हें सीएमएचओ कार्यालय से कार्य मुक्त न करके आदेश की अवहेलना करते हुए,उसी जगह काम कर रहा है।

जिससे संघ को संदेह है की भ्रष्टाचार में लिप्त विभागीय कर्मचारी अधिकरी कही जांच मे लीपापोती न कर दे।

             संघ के अजय सोनकर, राजेन्द्र तेकाम, योगेश चौधरी,दालचंद पासी, नेतराम झारिया, राजू मस्के, सुरेंद्र महोबिया, डॉ आर.डी.अहिरवार, राधिका दाहिया,उदय राज सिंह, धर्मेंद्र कुकरेले, दिनेश बागरी,अजय मांझी, रमेश पहलवान,पवन बावरिया नरेन्द्र हेडाऊ, योगीराज एडपाचे, पंकज एंडला, कोमल कोरचे, नरेश कुलस्ते, होसी तेकाम, पवन बरकडे, किशोर दहिया, नरेन्द्र उइके, तुलसी राम तेकाम, घनश्याम अहिरवार, अनिल दाहिया, द्वारका कोरी,बी.देवराज,इन्द्रजीत सिंह, रविशंकर कोरी, किशोरी मरकाम, शिव कुमार पटारिया, मथुरा झारिया,मूलचंद अहिरवार, आदि ने माननीय कलेक्टर महोदय जी को मांग की है कि मिशन संचालक के आदेश अनुसार तत्काल कार्य मुक्त किया जाए।  जिससे निष्पक्ष जांच हो सके एवं दोषियों पर कार्रवाई की जा सके।