लाश को हॉस्पिटल में बंधक बनाकर रख लिया था ,परिवार सुबह से रो रो कर परेशान - Bhaskar Crime

Breaking

लाश को हॉस्पिटल में बंधक बनाकर रख लिया था ,परिवार सुबह से रो रो कर परेशान

अस्पताल में बंधक लाश को जिला प्रशासन ने कराया मुक्त इलाज के दौराना डीलन सिंह की कल देर रात मौत हो गई

तहसीलदार श्री जयसवाल ने प्रबंधक से बात करके लाश छुड़वाई

हॉस्पिटल ने 5 लाख जमा करवाकर इलाज शुरू किया इलाज के दौराना डीलन सिंह की कल देर रात 3बजे मौत हो गई

परिवार सुबह से रो रो कर परेशान था जब नहीं माने तो किसी ने उनको अनुविभागीय अधिकारी ऋषभ जैन का नंबर दिया

पोस्टमार्टम हेतु मेडिकल रवाना किया  लाश मेडिकल पहुंची अधिक समय हो जाने के कारण पोस्टमार्टम सुबह करने को कहां

मेडिकल कॉलेज डीन प्रदीप कसार को सूचित किया गया उन्होंने डॉक्टरों की टीम लगाकर पोस्टमार्टम कराया

 *जबलपुर-आज पन्ना जिला निवासी जो वन विभाग में वनरक्षक के पद पर कार्यरत डीलन सिंह आयु 50 वर्षीय एक एक्सीडेंट होने के बाद मुखर्जी हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था भर्ती के समय  हॉस्पिटल ने 5 लाख जमा करवाकर इलाज शुरू किया इलाज के दौराना डीलन सिंह की कल देर रात 3बजे मौत हो गई किन्तु 90 हजार परिवार के पास उपलब्ध ना होने के कारण लाश को हॉस्पिटल में बंधक बनाकर रख लिया था ,परिवार सुबह से रो रो कर परेशान था जब नहीं माने तो किसी ने उनको अनुविभागीय अधिकारी ऋषभ जैन का नंबर दिया उन्होंने अपनी समस्या श्री जैन को बताते हुए मदद की गुहार लगाई दुख भरी कहानी सुनने के उपरांत श्री ऋषभ जैन ने तहसीलदार संदीप जयसवाल और डॉ विभोर हज़ारे को हॉस्पिटल भेज कर बंधक  छुड़वाने का निर्देश दिया अस्पताल पहुंचकर मृतक के पुत्र विकास ने बताया कि सर रात 3:00 बजे मेरे पापा खत्म हो गए हैं किंतु 90 हजार ना होने के कारण लाश नहीं दे रहे हैं तहसीलदार श्री जयसवाल ने प्रबंधक से बात करके लाश छुड़वाई और लाश पोस्टमार्टम हेतु मेडिकल रवाना किया करीब 6:00 बजे लाश मेडिकल पहुंची अधिक समय हो जाने के कारण पोस्टमार्टम सुबह करने को कहां गया दुखी परिवार ने कलेक्ट्रेट कंट्रोल रूम के दूरभाष क्रमांक 0761 2623 925 पर कॉल करके बताया इस पर मेडिकल कॉलेज डीन प्रदीप कसार को सूचित किया गया उन्होंने डॉक्टरों की टीम लगाकर पोस्टमार्टम कराया और लाश पन्ना जिले के लिए रवाना की