साइकिल सवार को बचाने पर हादसा, 43 घायल महिला मजदूरों से भरी बस पलटी: - Bhaskar Crime

Breaking

साइकिल सवार को बचाने पर हादसा, 43 घायल महिला मजदूरों से भरी बस पलटी:

  महिला मजदूरों से भरी बस पलटी चरगवां-तिलवारा रोड पर गंगई के पास 
दुर्घटना की सूचना मिलने पर एसडीएम शहपुरा अनुराग सिंह तथा प्रशासन एवं पुलिस के अन्य अधिकारी तत्काल घटना स्थल पर पहुँच गये

 *जबलपुर* में चरगवा-तिलवारा रोड पर गंगई के पास मजदूरों से भरी बस पलट गई। हादसे में बस में सवार 43 लोग घायल हुए हैं। इसमें 5 की हालत नाजुक है। 32 सीटर बस सामने से मोड़ पर आ रहे साइकिल सवार और डम्पर को बचाने में अनियंत्रित हुई। सभी घायलों को मेडिकल पहुंचाया गया है। मौके पर स्थानीय बरगी विधायक संजय यादव भी पहुंचे।
चरगवां पुलिस के मुताबिक बस एमपी 20 DA 0210 प्रतिदिन कोहला और डभोला से मजदूरों को शाहनाला के पास दयोदय के पीछे एएसपी से रिटायर्ड हो चुके राजेश तिवारी के फार्म हाउस ले जाती है। 32 सीटर बस में 43 महिलाएं और किशोरियां सवार थी। बस का रजिस्ट्रेशन राजेश वर्मा के नाम पर है और परमिट सुनवारा चरगवां से जबलपुर का है। कोहला और डोभला गांव से मजदूरों को लेकर निकली थी बस
हादसे में घायल 18 वर्षीय कोहला निवासी शिवानी ठाकुर ने बताया कि सुबह आठ बजे वे काम पर निकलते हैं और शाम 6 बजे वापस बस छोड़ने आती है। बस कोहला और डोभला गांव से मजदूरों को उठाती हैं। सभी मजदूरों को अजय मुंशी लेकर जाता है। एक दिन के एवज में उन्हें 150 रुपए मिलते हैं।

 *सुबह 9.30 बजे गंगई गांव के पास हुआ हादसा* 

सुबह 9.30 बजे के लगभग बस गंगई गांव के पास मोड़ पर पहुंची थी। तभी सामने से एक डम्पर और साइकिल सवार निकला। दोनों को बचाने में बस अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। बस में सभी महिलाएं और किशोरियों व युवतियां हीं थी।
हादसे के बाद बस ड्राइवर मौके से भाग निकले। हादसे की खबर पाकर मौके पर चरगवां थाना प्रभारी विनोद पाठक पहुंचे। गांव वालों की मदद से सभी को एम्बुलेंस और डायल-100 से मेडिकल भिजवाया गया। गनीमत ये रहा कि बस नीचे खाई में नहीं पलटा, नहीं तो बड़ी जनहानि हो सकती थी।
दूसरी समस्या ओवरलोडिंग की है, जो आरटीओ और पुलिस मिलकर भी नहीं रोक पा रहे हैं। आरटीओ तो कभी उस रोड पर झांकने तक नहीं जाता। इस रोड पर नीची के पास लोडिंग वाहन पलटने से 25 लोगों की एक साथ और वन विभाग की लोडिंग वाहन पलटने से 7 लोगों की एक साथ मौत हो चुकी है।
घायलों में 13 साल की उम्र से लेकर 70 साल की वृद्धा तक।
घायलों में 13 साल की उम्र से लेकर 70 साल की वृद्धा तक।
पुलिस अधिकारी से रिटायर, पर नियम का पालन नहीं
बस में सवार 43 मजदूरों में 13 वर्ष की उम्र से लेकर 70 वर्ष की वृद्धा तक शामिल हैं। बाल मजदूरी मना है, बावजूद पुलिस अधिकारी पद से रिटायर राजेश तिवारी नियम-कायदे को ढेंगा दिखा रहे हैं। 32 सीटर बस में 43 लोगों को सवार थे। जबकि ओवरलोडिंग मना है। बीमा का लाभ भी अतिरिक्त सवारियों के एवज में नहीं मिलता है।
थाना प्रभारी विनोद पाठक के मुताबिक प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया गया है। हादसे की खबर पाकर नायब तहसीलदार कर्त्तव्य अग्रवाल भी पहुंचे थे। बताया कि हादसे में 10 यात्री घायल हुए हैं, जबकि बस में सभी मजदूर थे और उनको ढोने के लिए ही ये बस लगाई गई है।

 *ये हुए हादसे में घायल-* 

शिवानी ठाकुर, मोनू ठाकुर, नीतू, कपूरा बाई, क्रांति, सुंदर बाई, धनाबाई, सुमन, सरोज, रोजाबाई, सपना, कलाबाई, राजकुमार कुलस्ते, जयंती बाई, प्रिया, सुखवती, रानू, अंजना, मुस्कान, पूजा, सोमत बाई, प्रीति, लक्ष्मीबाई, सोना, अपूर्वा, मैना बाई को अधिक चोटें आई हैं।

*दुर्घटना की सूचना मिलने पर एसडीएम शहपुरा अनुराग सिंह तथा प्रशासन एवं पुलिस के अन्य अधिकारी  घटना स्थल पर पहुँच गये*

दुर्घटना की सूचना मिलने पर एसडीएम शहपुरा अनुराग सिंह तथा प्रशासन एवं पुलिस के अन्य अधिकारी तत्काल घटना स्थल पर पहुँच गये थे ।दुर्घटना में घायल हुये लोगों को ग्रामीणों की मदद से उपचार के लिये मेडिकल कॉलेज भेजा गया । नायब तहसीलदार कर्त्तव्य अग्रवाल के अनुसार दुर्घटना का शिकार हुई बस सुनवारा से जबलपुर जा रही थी । इसमें लगभग 43 यात्री सवार थे । दुर्घटना में करीब दस यात्री घायल हुये हैं ।