यात्री की रेल्वे स्टेशन पर कोरोना की जांच होगी जिनमें सर्दी-खांसी के थोडे से भी लक्षण दिखाई देंगे - Bhaskar Crime

Breaking

यात्री की रेल्वे स्टेशन पर कोरोना की जांच होगी जिनमें सर्दी-खांसी के थोडे से भी लक्षण दिखाई देंगे

 कलेक्टर के साथ रेल अधिकारियों की संपन्न हुई बैठक में निर्णय 

लक्षण दिखाई देने पर रेल यात्रियों का होगा कोरोना टेस्ट

सेंपलिंग हेतु प्लेटफार्म पर बनाये जायेंगे सुविधा केन्द्र.


*जबलपुर//ट्रेन से यात्रा कर जबलपुर आने वाले ऐसे हर यात्री की रेल्वे स्टेशन पर कोरोना की जांच होगी जिनमें सर्दी-खांसी के थोडे से भी लक्षण दिखाई देंगे। यह निर्णय आज कलेक्टर कर्मवीर शर्मा एवं रेल अधिकारियों की मण्डल रेल प्रबंधक कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में लिया गया।

बैठक में बताया गया कि सर्दी-खांसी और बुखार के लक्षण वाले रेलयात्रियों के कोरोना टेस्ट हेतु सेंपल लेने मुख्य रेल्वे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक एवं छह तथा मदनमहल रेल्वे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर तीन पर सुविधा केन्द्र खोले जायेंगे। 

 कलेक्टर श्री शर्मा ने बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये रेल अधिकारियों से सभी एहतियात बरतने का आग्रह भी किया। उन्होंने कहा कि रेल से यात्रा करने वालों तथा रेल्वे स्टेशन पर हर व्यक्ति के लिये मास्क पहनना अनिवार्य किया जाये। किसी भी व्यक्ति को रेल्वे स्टेशन के भीतर मॉस्क के बिना प्रवेश की अनुमति न दी जाये। जो भी व्यक्ति बिना मास्क के दिखाई दे उस पर तत्काल जुर्माने की कार्यवाही की जाये। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि रेल्वे द्वारा यात्रियों को यात्रा के दौरान अपने साथ संपूर्ण वैक्सीनेशन के सर्टिफिकेट की सॉफ्ट कॉपी या छायाप्रति अनिवार्य रूप से रखने की सलाह भी दी जाये।  

 कलेक्टर ने रेल अधिकारियों से कहा कि वे यह सुनिश्चित कर ले कि सभी रेल कर्मियों ने कोरोना वैक्सीन की दोनो डोज लगवा ली हों। इसी तरह रेल्वे स्टेशन पर खान-पान की सामग्री बेचने वाले सभी वेण्डर, कुली का काम करने वाले, ऑटो रिक्शा एवं साइकिल रिक्शा चालकों का भी संपूर्ण वैक्सीनेशन सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने रेल अधिकारियो को रेल्वे स्टेशन के आसपास घूमने वाले 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों के वैक्सीनेशन के लिये भी स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से विशेष अभियान प्रारंभ करने की बात कही। 

 बैठक में श्री शर्मा ने रेल अधिकारियों को 50 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर बनाने का आग्रह भी किया। साथ ही रेल्वे अस्पताल में कोरोना मरीजों के उपचार के लिये आईसीयू एवं ऑक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने की अपेक्षा भी व्यक्त की। बैठक में रेल्वे मण्डल प्रबंधक संजय विश्वास, अपर मण्डल रेल प्रबंधक दीपक गुप्ता एवं अभितोज वल्लभ, जिले के मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रत्नेश कुररिया, रेल्वे हॉस्टपिटल के सीएमएस डॉ. आर.एम. मिश्रा तथा आरपीएफ एवं जीआरपी के अधिकारी भी मौजूद थे।