निगमायुक्त ने एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। - Bhaskar Crime

Breaking

निगमायुक्त ने एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

 _*निगमायुक्त ने एक लाख रुपये का जुर्माना शहर की पांच सफाई समिति पर लगाया*_ 

(जबलपुर में औचक निरीक्षण कर निगमायुक्त देख रहे सफाई, खामी मिलने पर लगा रहे जुर्माना)* 



*जबलपुर* शहर में चल रही सफाई व्यवस्था पटरी से उतर गई है। इसे वापस पटरी पर लाने के लिए इन दिनों में नए निगमायुक्त आशीष वशिष्ठ ने मोर्चा संभाला है। जबलपुर सीमा में आने वाले 16 संभाग के 79 वार्डों में सफाई अभियान तेज कर दिया। इसकी जिम्मेदारी संभालने वाली सभी पांचों सफाई समितियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वे सफाई में किसी तरह की लापरवाही ना करें।

इस निर्देश के बाद भी यह 5 सफाई समिति लगातार लापरवाही कर रही है। जिसके बाद निर्माण उसने इन पर जुर्माने की कार्यवाही की है। निगमायुक्त ने एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। दरअसल इन समिति द्वारा सफाई के लिए तय किए गए नियम के मुताबिक काम नहीं किया जा रहा। इनमें खामी मिलने के बाद निगमायुक्त ने शहर की पांच सफाई समिति आर. प्रियांशी, मा नर्मदा सफाई, मा नर्मदा सांई सेवा, बर्फानी सिक्योरिटी और अल्ट्रा क्लीन के ऊपर जुर्माना लगाया।


*इन पर लगा इतना जुर्माना:* 


मा नर्मदा सांई सेवा समिति पाटन पर 76 हजार 6 सौ 84 रूपये का जुर्माना लगाया गया। आर. प्रियांशी कंस्ट्रक्शन नर्मदा नगर गोहलपुर पर 23 हजार 8 सौ 92 रूपये, अल्ट्रा क्लीन एंड केयर सर्विसिस नेपियर टाउन पर 36 हजार 6 सौ 8 रूपये, मां नर्मदा सफाई संरक्षक एण्ड लेबर कांट्रेक्ट कोआपरेटिव सोसायटी जबलपुर के ऊपर 20 हजार 8 सौ 9 रूपये एवं बर्फानी सिक्योंरिटी सर्विस नेपियर टाउन जबलपुर के ऊपर 28 हजार 9 सौ 2 रूपये की पेनाल्टी लगाई गयी है।