निगमायुक्‍त ने कहा,संविदा और ठेके के सफाई कर्मियों का होगा भौतिक सत्यापन - Bhaskar Crime

Breaking

निगमायुक्‍त ने कहा,संविदा और ठेके के सफाई कर्मियों का होगा भौतिक सत्यापन

निगमायुक्‍त ने कहा कि सफाई व्‍यवस्‍था में सुधार के लिए कर्मचारियों का भौतिक सत्‍यापन किया जाएगा

जबलपुर में नियमित, संविदा और ठेके के सफाई कर्मियों का होगा भौतिक सत्यापन


 *ये निर्देश भी दिए :

 *नागरिक सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए सफाई संबंधी शिकायतों एवं समस्याओं के लिए वाट्सएप नंबर जारी किए जाएं* ।

डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के वाहनों की निगरानी कंट्रोल कमांड सेंटर से कराई जाए* ।

*खराब कचरा वाहनों को मरम्मत कराएं ताकि 100 प्रतिशत घरों से कचरा एकत्रित हो*

 *जबलपुर//पर्याप्त मानव संसाधन व मशीनरी होने के बावजूद शहर की सफाई व्यवस्था में सुधार नहीं आ पा रहा। लिहाजा नगर निगम के नियमित सफाई कर्मियों सहित संविदा और ठेके पर रखे गए सफाई कर्मचारियों का अलग-अलग भौतिक सत्यापन किया जाएगा। ताकि सफाई कर्मियों की संख्या के आधार पर ये पता चल सके कि आखिर सफाई कर्मियों की इतनी बड़ी फौज होने के बावजूद सफाई व्यवस्था में सुधार क्यों नहीं आ पा रहा। इससे ये भी स्पष्ट होगा कि सफाई ठेकेदार कितने सफाई कर्मचारियों को वार्डों में भेज रहे हैं। इसके अलावा स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 के मद्देनजर रात्रि कालीन सफाई व्यवस्था भी दुरूस्त की जाएगी। सफाई व्यवस्था में सुधार लाने के लिए उक्त निर्देश नवागत निगमायुक्त आशीष वशिष्ठ ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में दिए। उन्होंने कहा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी प्रतिदिन नियमित, संविदा एवं ठेके के सफाई संरक्षकों का भौतिक सत्यापन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। इस दौरान सफाई कार्य में लगे वाहनों की समीक्षा करते हुए निर्धारित संभागीय कार्यालयों में कचरा वाहनों को लगाने के निर्देश दिए। सभी कचरा वाहनों में गीला और सूखा कचरा अलग-अलग रखने की व्यवस्था करने कहा।

 *गंदगी फैलाने वालों के कटेंगे चालान :*

निगमायुक्त ने कहा कि गंदगी फैलाने वालों के साथ-साथ कोरोना संक्रमण को लेकर जारी गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की जाए। बैठक में अपर आयुक्त परमेश जलोटे, सहायक आयुक्त संभव अयाची, स्वास्थ्य अधिकारी भूपेंद्र सिंह, सहायक स्वास्थ्य अधिकारी सुनील गुजराती, अनिल जैन, केके दुबे, अनिल बारी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।