पुलिस हैरान-परेशान है. 15 दिन में 4 एटीएम लूटे जा चुके हैं आरोपी पुलिस के हाथ नहीं - Bhaskar Crime

Breaking

पुलिस हैरान-परेशान है. 15 दिन में 4 एटीएम लूटे जा चुके हैं आरोपी पुलिस के हाथ नहीं

 *MP पुलिस मेवात गैंग से सहमी, 12 दिन में ATM काटकर हो चुकी है


 2 करोड़ की लूट आरोपी पुलिस के हाथ नहीं डकैतों के छक्के छुड़ाने वाली 

ग्वालियर// ग्वालियर चंबल संभाग से डकैतों का खौफ खत्म करने वाली पुलिस इन दिनों मेवात गैंग की दहशत से परेशान है. 

मेवात की गैंग ने इन दिनों पुलिस को चकर घिन्नी कर रखा है. बीते 15 दिन एक के बाद एक हो रही एटीएम काटकर लूट के वारदात से ग्वालियर पुलिस हैरान-परेशान है. 15 दिन में 4 एटीएम लूटे जा चुके हैं. 1 रात में ही तीन एटीएम गैस कटर की मदद से काटकर लूटे गए और पुलिस अब तक खाली हाथ है पुलिस यह तो पता लगा चुकी हैं कि इन वारदातों के पीछे मेवात गैंग लेकिन 4 राज्यों में छापेमारी के बाद अब तक एक भी आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लगा है.


ग्वालियर में एटीएम से लूटे 50लाख 15मिनिट में लूटे 3 एटीएम


- मेवात गैंग ने बीते दिनों ग्वालियर में पुलिस को चुनौती देते हुए एक रात में महज 51 मिनट के भीतर तीन ATM को निशाना बनाया और अच्छी खासी रकम लूट कर ले गए.


- महज 15 दिन में यह गैंग ग्वालियर चंबल अंचल के एटीएम से लगभग ढाई करोड़ रुपए लूट चुकी है.


- शहर के बीचो-बीच एटीएम से लगभग आधा करोड़ यानी 50 लाख रुपए लूटने की सबसे बड़ी वारदात हुई है.


- सीसीटीवी फुटेज के इतना पता चला है कि वारदात को अंजाम देने वाली इंटरस्टेट गैंग है. सभी बदमाश चेहरे पर मास्क और सिर पर टोपी पहने हुए दिखाई दिए.


- यही बदमाश महज 51 मिनट में शहर के अलग-अलग स्थानों पर लगे तीन ATM से 50 लाख रुपए लूटकर फरार हैं. अलग-अलग वारदातों में यह गैंग अबतक एटीएम को गैस कटर की मदद से काटकर लगभग 2 करोड़ रुपए की लूट कर चुकी है.


यहां हुई लूट की घटना मुरैना जिले में एटीएम काटकर 48 लाख लूटे गए.


- शिवपुरी में इसी महीने एटीएम को गैस कटर से काटकर 42 लाख रुपए निकाले गए.


- ग्वालियर में 1 दिन पहले ही 3 ATM को निशाना बनाकर लगभग 50 लाख रुपए की लूट की गई.


- शिवपुरी जिले के करैरा में भी एटीएम को निशाना बनाकर लाखों रुपए लूटे.जांच में जुटीं पुलिस की 10 टीमें

एटीएम काटकर 50 लाख रुपए की लूट की इस वारदात को सुलझाने और आरोपियों की तलाश में पुलिस की 10 टीमें जुटी हुई हैं. इनमें से छह क्राइम ब्रांच की टीम है. पुलिस को वारदातों के पीछे हरियाणा, राजस्थान की इंटरस्टेट गैंग मेवात गैंग पर संदेह है.


पहले करते हैं रेकी पुलिस के मुताबिक यह इंटर स्टेट गैंग वारदात को अंजाम देने से पहले ही रेकी करती है. जिसमें वे यह पता लगाते हैं कि कौन से एटीएम में कब पैसा जमा होता है. खास बात यह है कि गैंग शनिवार और रविवार को ही एटीएम को निशाना बनाता है. इसकी वजह यह है कि शनिवार और रविवार को छुट्टी होने की वजह से एटीएम में पहले से ज्यादा पैसा जमा किया जाता है. इस मामले में पुलिस एटीएम में कैश फिल करने वाली कंपनी के कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है. पुलिस ने इस आधार पर कुछ कर्मचारियों को भी निशाने पर लिया है.पुलिस को शक है कि लूटेरों तक इतनी सटीक जानकारी कैसे पहुंचती है कि किस एटीएम में ज्यादा कैश भरा गया है.


फिल्मी अंदाज में करते हैं वारदात


ग्वालियर में हुईं एटीएम लूट की वारदात को फिल्मी स्टाइल में अंजाम दिया गया है. पहला बदमाश जो चेहरे पर मास्क और सिर पर टोपी पहन कर अंदर दाखिल होता है. उसने पहले वो एटीएम के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे पर ब्लैक कलर का स्प्रे डालता है. इसके बाद अंदर आकर दीवार पर लगे कैमरे पर भी स्प्रे कर उसे भी बंद कर देता है. इससे कैमरा के आगे सिर्फ ब्लैंक काली इमेज नजर आने लगती है. इसके बाद उस बदमाश के इशारे पर अन्य बदमाश अंदर आते हैं और एटीएम के बाहर खड़ी कार की डिग्गी खोलकर उसमें गैस कटर निकालकर लाते हैं और एटीएम मशीन को काटना शुरू कर देते हैं. महज 5 मिनट में गैस कटर से एटीएम मशीन को काटने के बाद बाहर निकले और फरार हो गए, लेकिन यहां बदमाशों से एक चूक हो गई कि उन्हें नहीं पता था कि एक कैमरा एटीएम मशीन में भी लगा होता है, जिसमें उनकी पूरी हरकत रिकॉर्ड हो गई.