- Bhaskar Crime

Breaking

 राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे विज्ञान सर्वत्र पूज्यते  कार्यक्रम का उद्घाटन


रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के कुलपति कपिल देव मिश्रा ने यह जानकारी दी है.

कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों को विज्ञान की ओर आकर्षित करना तथा वैज्ञानिक सिद्धांतों का प्रचार-प्रसार करना है

जबलपुर//  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्कूल-कॉलेज के छात्रों के लिए सप्ताह भर चलने वाले राष्ट्रव्यापी प्रतियोगिता और व्याख्यान कार्यक्रम ‘विज्ञान सर्वत्र पूज्यते’ का उद्घाटन कर रहे हैं. रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के कुलपति कपिल देव मिश्रा ने यह जानकारी दी है.

मध्य प्रदेश में तीन संस्थानों का चयन देव मिश्रा ने बताया कि केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इस कार्यक्रम के लिए मध्य प्रदेश में तीन संस्थानों का चयन किया है. उन्होंने कहा कि भोपाल के एमपी काउंसिल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (एमपीसीएसटी), जबलपुर के रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय और इंदौर के एसजीएसआईटीएस कॉलेज इंदौर में कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. उन्होंने बताया कि कार्यक्रम में सरकारी और निजी संस्थानों के छात्र हिस्सा ले सकते हैं और इसके लिए उन्हें सरकारी वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा.

‘विज्ञान सर्वत्र पूज्यते’ का उद्देश्य छात्रों को विज्ञान की ओर आकर्षित करना

एमपीसीएसटी के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. पीके दिघारा ने संवाददाताओं से कहा कि ‘विज्ञान सर्वत्र पूज्यते’ (विज्ञान सभी जगह पूजनीय है) कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों को विज्ञान की ओर आकर्षित करना तथा वैज्ञानिक सिद्धांतों का प्रचार-प्रसार करना है. उन्होंने बतााया कि 23 फरवरी को भारतीय विज्ञान के इतिहास, 24 फरवरी को आधुनिक भारतीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी के मील के पत्थर, 25 फरवरी को स्वदेशी परंपरागत आविष्कार और नवाचार, 26 फरवरी को विज्ञान साहित्य महोत्सव, जबकि 27 फरवरी को अगले 25 वर्षों के लिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी कार्यक्रम का विषय होगा. वहीं, समापन समारोह 28 फरवरी को आयोजित किया जाएगा.