कलेक्टर डॉ इलैया राजा टी ने कहा कि ,आम जनता की समस्याओं का निराकरण पहली प्राथमिकता है - Bhaskar Crime

Breaking

कलेक्टर डॉ इलैया राजा टी ने कहा कि ,आम जनता की समस्याओं का निराकरण पहली प्राथमिकता है

 कलेक्टर डॉ इलैया राजा टी ने कहा संवेदनशीलता के साथ निराकरण करें


आम जनता की समस्याओं का त्वरित निराकरण और लोगों को जबाबदेह प्रशासन देना पहली प्राथमिकता  - कलेक्टर

 *जबलपुर//  कलेक्टर डॉ इलैया राजा टी ने आज बुधवार को समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में सभी विभागों के जिला अधिकारियों को आम जनता से जुड़े मुद्दों पर ज्यादा संवेदनशीलता बरतने तथा लोगों की समस्याओं और शिकायतों का तत्परता से निराकरण करने के निर्देश दिये हैं ।उन्होंने कहा कि जनता को बेहतर और जबाबदेह प्रशासन देना उनकी हमेशा प्राथमिकता रही है और यहां भी वो चाहेंगे कि सभी अधिकारी इस दिशा में प्रो एक्टिव होकर काम करें।

       कलेक्टर ने बैठक में साफ किया की समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में जिला अधिकारियों को अनिवार्य तौर पर मौजूद रहना होगा, प्रतिनिधि के रूप में कनिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति स्वीकार नहीं होगी ।  उन्होंने सीएम हेल्पलाइन से प्राप्त शिकायतों के निराकरण में पिछले माह जबलपुर जिले को प्रदेश में दूसरा स्थान मिलने पर सभी अधिकारियों को बधाई दी तथा इस रैंक को और बेहतर करने की अपेक्षा जताई । उन्होंने कहा कि अधिकारियों को जनसुनवाई में भी ज्यादा ध्यान देना होगा और लोगों से प्राप्त आवेदनों पर तत्काल कार्यवाही करनी होगी । कलेक्टर ने जनप्रतिनिधियों एवं शासन से प्राप्त पत्रों का भी जबाब भी समय पर दिये जाने चाहिये ।

       डॉ इलैयाराजा ने लोकसेवा गारंटी अधिनियम  के तहत प्राप्त आवेदनों का समय सीमा के भीतर निराकरण करने के निर्देश देते हुये अधिकारियों से कहा कि आम नागरिकों को समय पर सेवाएं प्रदान करना भी उनकी प्राथमिकताओं में शामिल है । उन्होंने आम जनता को बेहतर प्रशासन देने एक टीम के रूप में काम करने की अपेक्षा व्यक्त करते हुये अधिकारियों से कहा कि व्यवस्था को ज्यादा जनोन्मुखी बनाने की दिशा के लिये नवाचारों को भी अपनायें ।

        कलेक्टर ने कहा कि अधिकारी आम नागरिकों के लिये हमेशा उपलब्ध रहें तथा अपने क्षेत्र की समस्याओं का प्रो एक्टिव होकर निराकरण करें ।  उन्होंने कहा कि आम जनता की समस्याओं के प्रति संवेदनशील, पारदर्शिता, ईमानदारी और गम्भीरता बरतने वाले अधिकारियों को हमेशा उनका समर्थन रहेगा ।  कलेक्टर ने सभी एसडीएम से भी कहा कि उन्हें अपने कार्यक्षेत्र में काम करने की पूरी स्वतंत्रता होगी । विभागीय कामकाज और जनता से जुड़े मुद्दों एवं समस्याओं के निराकरण में  किसी भी प्रकार की कठिनाई आने पर कोई भी अधिकारी उनसे किसी भी समय सीधे मोबाइल फोन पर सम्पर्क कर सकता है । उन्होंने अधिकारियों को ऑफिस आने वाले आम नागरिकों के साथ विनम्र व्यवहार करने उन्हें बराबर का सम्मान देने तथा उनकी समस्याओं एवं शिकायतों को धैर्य पूर्वक सुनकर संवेदनशीलता के साथ निराकरण करने के निर्देश भी दिये ।

       कलेक्टर ने सभी जिला अधिकारियों को अधीनस्थ कार्यालयों का नियमित निरीक्षण करने , अधीनस्थ अधिकारियों कर्मचारियों की नियमित रूप से बैठके लेने तथा कामकाज की समीक्षा के साथ-साथ उनकी कठिनाइयों का भी निराकरण करने के निर्देश  दिये । उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि वे अपने कार्यालय को साफ-सुथरा रखें साथ ही आम नागरिकों के लिये भी बैठने की सम्मानजनक व्यवस्था करें । उन्होंने कार्यालय पहुँचने वाले दिव्यांगजनों एवं वरिष्ठ नागरिकों की समस्याओं के निराकरण को प्राथमिकता देने की हिदायत भी अधिकारियों को दी ।

          डॉ इलैया राजा ने जिला अधिकारियों से कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के भ्रमण के दौरान विभागीय कार्यों के साथ-साथ आंगनबाड़ी केंद्रों एवं स्कूलों का भी निरीक्षण करें । उन्होंने शहर को साफ-सुथरा रखने में भी सक्रिय योगदान की अपेक्षा भी अधिकारियों से की । कलेक्टर ने राशन वितरण में गड़बड़ियों को रोकने अपने क्षेत्र की उचित मूल्य दूकानों का नियमित निरीक्षण एवं आकस्मिक जाँच करने के निर्देश दिये । उन्होंने शेष बचे किसानों को भी उपार्जित धान की कीमत का भुगतान शीघ्र करने के निर्देश दिये। बैठक में जिला पंचायत की सीईओ सलोनी सिडाना, नगर निगम आयुक्त आशीष वशिष्ठ, अपर कलेक्टर राजेश बाथम, अपर कलेक्टर शेर सिंह मीणा एवं अपर कलेक्टर सुश्री विमलेश सिंह तथा सभी विभागों के जिला अधिकारी मौजूद थे।