9 करोड़ की शासकीय भूमि 45 एकड़ शासकीय शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है - Bhaskar Crime

Breaking

9 करोड़ की शासकीय भूमि 45 एकड़ शासकीय शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है

45 एकड़ शासकीय शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है। 


अतिक्रमण से मुक्त कराई शासकीय भूमि की कीमत आठ से नौ करोड़ रुपये बताई गई है।

 शहपुरा के ग्राम खैरी में 45 एकड़ शासकीय भूमि को कराया गया अतिक्रमण मुक्त


 जबलपुर // कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी. के निर्देशानुसार एसडीएम शहपुरा अनुराग सिंह के नेतृत्व में आज राजस्व विभाग के अमले द्वारा पुलिस के साथ की गई कार्यवाही में शहपुरा तहसील के ग्राम खैरी स्थित करीब 45 एकड़ शासकीय शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है। अतिक्रमण से मुक्त कराई शासकीय भूमि की कीमत आठ से नौ करोड़ रुपये बताई गई है।

एसडीएम शहपुरा अनुराग सिंह के अनुसार ग्राम खैरी स्थित खसरा नंबर 146/1, 146/2, 242, 248 एवं खसरा नंबर 298/5 की इस शासकीय भूमि को फिरोज कमाल पिता मोहम्मद हारून, परवेज राजन पिता डॉ. मुमताज खान, डॉ. मुमताज खानपिता हाफिन खान, आर. दुबे पिता आर.के. दुबे, समसुद्दीन अंसारी पिता सुबरानी, साकेत अली पिता सुलाई, गुरमुख सिंह, राजेन्द्र रैकवार पिता बाबूलाल रैकवार, शशि पिता रामभरोसे चतुर्वेदी, अशफाक, हर्ष जायसवाल पिता प्रभात जायसवाल, आशीष कुमार लाल पिता ए.एल. लाल के अवैध कब्जे से मुक्त कराया गया है। 

एसडीएम शहपुरा ने बताया कि अतिक्रमणधारियों के विरूद्ध न्यायालय तहसीलदार शहपुरा में प्रकरण दर्ज कर बेदखली की कार्यवाही कर जुर्माना अधिरोपित करने की कार्यवाही पूर्व में की गई थी। किंतु अतिक्रमणधारियों द्वारा समय-सीमा में अतिक्रमण नहीं हटाया गया। अतिक्रमणधारियों द्वारा इस शासकीय भूमि पर किये गये वृक्षारोपण की देखरेख हेतु ग्राम पंचायत को सौंपा गया है। 

शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराने की कार्यवाई में तहसीलदार शहपुरा श्रीमती विंकी सिंहमारे, नायाब तहसीलदार कर्तव्य अग्रवाल, राजस्व निरीक्षक संजय दुबे, पटवारी विद्याचरण खरे, एएसआई अशोक त्रिपाठी एवं पंचायत सचिव राजेन्द्र पटेल शामिल थे।