जिला स्तरीय लघु उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक - Bhaskar Crime

Breaking

जिला स्तरीय लघु उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक

औद्योगिक दृष्टि से विकसित हेतु हर संभव पहल करें.

कलेक्ट्रेट में जिला स्तरीय लघु उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक आयोजित की गई


जिला स्तरीय लघु उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक संपन्न

हर संभव पहल करें, जो भी समस्याएं आती हैं उन्हें सुलझाने का प्रयास किया जायेगा।

 जबलपुर// कलेक्टर कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट में जिला स्तरीय लघु उद्योग संवर्धन बोर्ड की बैठक आयोजित की गई। जिसमें जिला स्तरीय समन्वय समिति व जिला निर्यात प्रोत्साहन समिति के साथ सभी उद्योग संघों के प्रतिनिधि उपस्थित थे


बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जबलपुर की पहचान एक औद्योगिक दृष्टि से विकसित जिले के रूप में इसके लिए हर संभव पहल करें, जो भी समस्याएं आती हैं उन्हें सुलझाने का प्रयास किया जायेगा। बैठक के दौरान जिले की औद्योगिक प्रोफाइल के संबंध में विस्तार से चर्चाकर औद्योगिक संभावनाओं पर जोर दिया। जिसमें फर्नीचर, फूड प्रोसेसिंग, इलैक्ट्रानिक्स, प्रिंटिंग व डिफेंस कलस्टर आदि शामिल थे। विभिन्न कलस्टरों के विकास के लिए उद्यमियों ने अपने-अपने सुझाव दिये तथा एक बेहतर औद्योगिक वातावरण के लिए आने वाली समस्याओं को दूर करने को कहा। एग्जीविशन सेंटर माढ़ोताल के साथ-साथ नवीन रेडीमेड गारमेंट कलस्टर पर विस्तार से चर्चा की गई। कलेक्टर इलैयाराजा ने कहा कि औद्योगिक विकास के क्षेत्र में टेक्नालॉजी सेंटर जबलपुर में आ रहा है जो काफी महत्वपूर्ण है। इसके साथ ही कहा कि औद्योगिक अधोसंरचना विकास के साथ-साथ स्टार्टअप पॉलिसी को अपनाना होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के बारे में भी जानकारी दी। मनेरी में मंडला व जबलपुर के सहयोग से प्रोमोशनल कैम्प आयोजित कर फूड प्रोसेसिंग इकाइयों को उद्योग लगाने के लिए प्रोत्साहित करने के संबंध में भी आवश्यक चर्चा की गई। उद्यमियों ने औद्योगिक क्षेत्रों में बिजली, पानी, सड़क, आवागमन, भूमि आदि को लेकर भी अपनी बात रखी जिसे कलेक्टर ने यथोचित रूप से सुलझाने को कहा। उन्होंने गारमेंट इंडस्ट्री के निर्यात को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से अपेरल प्रमोशन काउंसिल को कांसेप्ट नोट भेजने को कहा। साथ ही  उद्योगों द्वारा एमएसएमई इकाइयों को ऋण उपलब्ध कराने में आ रही बाधाओं को दूर करने हेतु एलडीएम को समन्वय करने हेतु कहा।