, पर्व के पहले कल नेत्र शिविर के माध्यम से मानव सेवा होगी *मुनि श्री के सानिध्य में हर दिन होंगे आयोजन - Bhaskar Crime

Breaking

, पर्व के पहले कल नेत्र शिविर के माध्यम से मानव सेवा होगी *मुनि श्री के सानिध्य में हर दिन होंगे आयोजन

 पर्युषण महापर्व 31 से

, पर्व के पहले कल नेत्र शिविर के माध्यम से मानव सेवा होगी

*मुनि श्री के सानिध्य में हर दिन होंगे आयोजन*


इंदौर// दिगम्बर जैन समाज के दसलक्षण (पर्युषण) महापर्व की शुरुआत 31 अगस्त से होगी। पर्युषण पर्व वर्ष 2022 के लाइफ़ टाइम अचीव्मेंट, मुनि तरुण सागर और स्व. ड़बड़ेरा अवार्ड के लिए नाम चयनित कर लिए गए है।

यह जानकारी देते हुए सकल दिगम्बर जैन समाज युवा प्रकोष्ठ, इंदौर के अध्यक्ष मनीष सोनी मावावाला, सरंक्षक राहुल सेठी और मार्गदर्शक सुयश जैन ने बताया की पर्व की शुरुआत के पहले कल रविवार 28 अगस्त को मानव सेवा की जाएगी। इस दिन स्व. शेलेंद्र सेठी की स्मृति में निशुल्क़ नेत्र रोग परीक्षण और मोतियाबिंद ऑपरेशन शिविर सुबह 9 बजे से 12 बजे तक आयोजित किया जाएगा। शिविर में निहार नेत्रालय की टीम प्रख्यात नेत्र रोग विशेषज्ञ डाक्टर महेश जी गर्ग द्वारा सेवा दी जाएगी। 30 अगस्त को रोटतीज पर्व मनेगा। इस दिन जैन समाज के घर-घर में रोट और खीर प्रसादी बनाई जाती है। महिला प्रकोष्ठ की परम सरंक्षक रेखा जैन, कल्पना जैन और अध्यक्ष पूजा कासलीवाल ने बताया की 31 अगस्त से पर्व की शुरुआत होगी। प्रतिदिन मुख्य आयोजन एयरपोर्ट रोड स्थित अंजनी नगर की चंदा प्रभु धर्मशाला में होंगे। यहा पर विराजित मुनि श्री 108 श्रुतधरनंदी जी महाराज के सानिध्य में सुबह कलश-अभिषेक, प्रवचन और संगीतमय पूजन होगी। दोपहर में तत्वार्थ सूत्र का वाचन होगा। शाम को सामायिक और महाआरती होगी। 5 सितम्बर को सुगंध दशमी पर्व पर श्री माँ पद्मावती धाम संदेश अपार्टमेंट में आकर्षक फूल बंगला में माता के दर्शन होंगे। इसी तरह 11 सितम्बर को क्षमावाणी महापर्व मनेगा। 

*अवार्ड के लिए नाम चयनित किए*

मार्गदर्शक सुयश जैन, संयोजक मेघना जैन और रुचि गोधा ने बताया की वर्ष 2022 के लिए लाइफ़ टाइम अचीव्मेंट अवार्ड डॉक्टर जैनेंद्र जैन जी, मुनि तरुण सागर अवार्ड कैलाश अजमेरा जी और स्व. ड़बड़ेरा अवार्ड विजय जी कासलीवाल को दिया जाएगा। आप तीनो को 8 सितम्बर को रात 8 बजे अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।

*प्रतिदिन ये सांस्कृतिक आयोजन होंगे*

आइटी प्रभारी सलोनी जैन-अदिति जैन ने बताया की पर्व के दोरान हर दिन इंदौर स्तर पर सांस्कृतिक प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। इसमें पहले फेंसी ड्रेस प्रतियोगिता होगी। फिर उसके पश्चात कोन बनेगा धर्म शिरोमणी, युगल नृत्य प्रतियोगिता, जैन इंदौर आइडल, धार्मिक अंताक्षरी, धार्मिक तम्बोला, 48 विधान मंडल पर 48 परिवार भक्तामर पाठ की आराधना सहित अन्य आयोजन शामिल है।