शांति समिति में कहा त्योहारों पर असामाजिक तत्वों पर सीसीडी कैमरे से रखी जाएगी नजर - Bhaskar Crime

Breaking

शांति समिति में कहा त्योहारों पर असामाजिक तत्वों पर सीसीडी कैमरे से रखी जाएगी नजर

एसपी ने शांति समिति में कहा त्योहारों पर असामाजिक तत्वों पर सीसीडी कैमरे से रखी जाएगी नजर

शासन प्रशासन की गाइडलाइन के नियमों के अनुसार त्योहारों को मनाया जाए अन्यथा उचित कार्रवाई किया जाएगा 


बैठक में कहां गया शांति समिति में चर्चा हुई त्योहारों को अशांति या उत्पाद बचाने की खेर नहीं शहर की सड़कों से अतिक्रमण हटाया जाएगा से किसी प्रकार की परेशानी ना हो

दुर्गा पूजा, दशहरा, ईद-ए-मिलाद एवं दीपावली पर्व शांति पूर्वक मनाने शांति समिति की बैठक संपन्न

 सड़कों के गड्‌ढे भरने, साफ-सफाई और विद्युत की निर्बाध आपूर्ति,प्रकाश के पर्याप्त इंतजामों पर विशेष जोर


*जबलपुर//दुर्गा पूजा, दशहरा, ईद-ए-मिलाद एवं दीपावली पर्व शांति पूर्वक मनाने आज जिला प्रशासन ने शांति समिति की बैठक आयोजित की गई जिसमें आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई शांति समिति की बैठक में शहर की गंगा-जमुनी तहजीब के मुताबिक इन त्यौहारों को शांति-सद्भाव, भाईचारे और उत्साह से मनाने का आग्रह नागरिकों से समिति के सभी सदस्यों द्वारा किया गया है। कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी. की अध्यक्षता में संपन्न हुई इस बैठक में विधायक श्री लखन घनघोरिया, श्री विनय सक्सेना, पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा, पूर्व मंत्री श्री चंद्रकुमार भनोट एवं सुश्री कौशल्या गोंटिया, शरद काबरा, मुकेश राठौर, एमए रिजवी, ताहिर खान, साबिर उस्मानी, रवि गुप्ता एवं शांति समिति के सभी सदस्य मौजूद थे।


     बैठक में शांति समिति के सदस्यों ने त्यौहारों के दौरान साफ-सफाई एवं पेयजल आपूर्ति के समुचित इंतजाम करने पर जोर दिया। सदस्यों ने धर्म स्थलों एवं जुलूस मार्गों की सड़कों की मरम्मत करने की मांग भी प्रशासन से की। इसके साथ नवरात्रि एवं दुर्गोत्सव को देखते हुए पंडालों एवं मंदिरों के आसपास प्रकाश के पर्याप्त इंतजाम सुनिश्चित करने का सुझाव दिया।


     शांति समिति के सदस्यों ने बैठक में त्यौहारों के दौरान विद्युत की निर्बाध आपूर्ति पर विशेष ध्यान देने की जरूरत बताई। सदस्यों ने कहा कि नवरात्रि के दौरान देवी पंडालों और पूजा स्थल पर श्रद्धालों की भीड़ को देखते हुए विद्युत आपूर्ति में व्यवधान अप्रिय स्थिति का कारण बन सकता है। सदस्यों ने त्यौहारों को देखते हुए फ्लाई ओव्हर निर्माण के कारण बल्देवबाग चौराहे एवं अन्य स्थानों पर लगने वाले जाम की स्थिति से निपटने समुचित रणनीति बनाने का आग्रह भी किया।

     बैठक में दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन जुलूस वाले मार्गों में खासतौर पर महाकाली के विसर्जन मार्गों पर विद्युत आपूर्ति की सर्विस लाइनों एवं टेलीफोन केबल की ऊंचाई बढ़ाने की मांग भी रखी गई। दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन स्थलों पर सुरक्षा के इंतजाम तथा पर्याप्त संख्या में गोताखोर एवं नाविकों को तैनात किये जाने का सुझाव भी दिया गया। विधायक श्री लखन घनघोरिया ने शांति समिति की बैठक में त्यौहारों के दौरान विद्युत की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ-साथ नाले-नालियों की साफ-सफाई पर भी विशेष ध्यान देने की जरूरत बताई, ताकि बारिश होने पर नाले-नालियों का गंदा पानी पंडालों तक न पहुंच सके। श्री घनघोरिया ने कहा कि लगभग दो साल बाद इस बार दुर्गोत्सव, दशहरा एवं सभी पर्वों पर किसी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा इसलिए लोगों के उत्साह को देखते हुए सभी व्यवस्थायें चुस्त-दुरूस्त रहें इस ओर प्रशासन को ज्यादा ध्यान देना होगा। उन्होंने ज्वारे विसर्जन जुलूस और मिलादुन्नवी एक ही दिन पड़ने की संभावनाओं को देखते हुए विशेष सतर्कता बरतने तथा ऐसी स्थिति बनने पर आयोजकों की अलग से बैठकें बुलाने का सुझाव भी दिया।



     विधायक श्री विनय सक्सेना ने बैठक में त्यौहारों के मद्देनजर सड़कों के गड्‌ढे भरे जाने को प्राथमिकता देने की बात कही। उन्होंने दुर्गोत्सव समितियों को अस्थाई विद्युत कनेक्शन देने की प्रक्रिया का सरलीकरण करने का सुझाव दिया। श्री सक्सेना ने कहा कि सभी दुर्गा उत्सव समितियों को आवेदन के तुरंत बाद विद्युत कनेक्शन दिये जायें। उन्होंने दुर्गोत्सव, दशहरा, मिलादुन्नवी एवं सभी त्यौहारों के मद्देनजर साफ-सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिये जाने की जरूरत बताई। सदस्यों द्वारा बैठक में पूर्वानुसार षष्ठी के बाद गरबा के आयोजन पर लगाई रोक को बरकरार रखने का सुझाव भी दिया गया। इसके साथ ही त्यौहारों के दौरान अशांति पैदा करने तथा सांप्रदायिक सद्भाव के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश करने वालों पर कठोर से कठोर कार्यवाही करने की मांग भी गई।


 *त्यौहारों के दौरान रात्रि में करायें सफाई- कलेक्टर* 


जुलूस मार्गों के निरीक्षण के लिए बनेंगी अलग-अलग टीमें


     कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी. ने बैठक को संबोधित करते हुए त्यौहारों के आयोजन के मद्देनजर व्यवस्थाओं को लेकर शांति समिति के सदस्यों द्वारा दिये गये प्रत्येक सुझाव को महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने सदस्यों द्वारा जताई गई चिंता पर विद्युत विभाग के अधिकारियों को त्यौहारों के दौरान विद्युत की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने की हिदायत दी। डॉ. इलैयाराजा ने साफ-सफाई के मुद्दे पर चर्चा करते हुए नगर निगम के अधिकारियों को दुर्गा पंडालों, मंदिरों तथा बाजारों में रात्रि कालीन सफाई करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जरूरत हो तो इसके लिए अतिरिक्त सफाई कर्मियों को भी तैनात किया जाये। कलेक्टर ने नाले-नालियों की सफाई पर भी विशेष जोर देते हुए कहा कि नगर निगम नालों की सफाई के लिए तैनात टीमों को भी एक्टिव करें। उन्होंने कहा कि बारिश की अभी भी संभावनाएं बनी हुई हैं। नाले-नालियों की सफाई बेहतर ढंग से होगी तो दुर्गा पंडालों तक पानी के भराव को रोका जा सकेगा।


     कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा ने शहर में अलग-अलग निकलने वाले दशहरा जुलूस को देखते हुए नगर निगम, विद्युत मंडल, राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों की अलग-अलग टीमें बनाये जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि ये टीमें जुलूस मार्गों का निरीक्षण करेंगी तथा सभी जरूरी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करेंगी। कलेक्टर ने कहा कि फ्लाई ओव्हर निर्माण की वजह से होने वाले ट्रेफिक जाम से त्यौहारों के दौरान नागरिकों को राहत दिलाने फ्लाई ओव्हर निर्माण कंपनी के इंजीनियर्स, ट्रेफिक पुलिस एवं संबंधित विभागों के अधिकारियों की अलग से बैठक बुलाई जायेगी और ट्रेफिक प्लान बनाया जायेगा। उन्होंने दुर्गोत्सव आयोजन समितियों से भी यातायात को सुगम बनाये रखने अपने स्वयंसेवक तैनात करने का आग्रह किया। कलेक्टर ने दुर्गा पंडालों पर अग्निशमन यंत्रों को रखे जाने की बात भी कही ताकि किसी तरह की कोई अप्रिय घटना न हो।


 *सोशल मीडिया पर रहेगी नजर, अफवाह फैलाने वालों पर होगी कठोर कार्यवाही- पुलिस अधीक्षक* 


     पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने शांति समिति की बैठक में कहा कि त्यौहारों के दौरान पुलिस द्वारा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये जायेंगे। अशांति पैदा करने और शहर की फिजां खराब करने वाले तत्वों से पुलिस सख्ती से निपटेगी। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के सभी माध्यमों पर भी पुलिस की पैनी नजर रहेगी तथा भड़काऊ या उद्वेलित करने वाले मैसेज और पोस्ट या कमेंट करने वालों पर कठोर कार्यवाही की जायेगी।   पुलिस अधीक्षक ने बैठक में दुर्गोत्सव समितियों से भी आग्रह किया कि सुरक्षा के मद्देनजर पंडालों के आसपास सीसीटीव्ही कैमरे लगायें। उन्होंने आयोजन समितियों से पंडालों पर स्वयंसेवक तैनात करने का अनुरोध भी किया ताकि भीड़ को नियंत्रित किया जा सके। श्री बहुगुणा ने कहा कि चूंकि दो साल बाद त्यौहार का आयोजन प्रतिबंधों से मुक्त रहेंगे इसलिए सभी परंपरागत मार्ग धार्मिक जुलूस निकाले जाने की अनुमति होगी। उन्होंने डीजे के इस्तेमाल के बारे में लगे प्रतिबंधों की जानकारी भी शांति समिति में सदस्यों को दी। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि डीजे संचालकों की भी जल्दी ही अलग से बैठक बुलाई जायेगी। उन्होंने सभी विसर्जन जुलूसों पर कड़े सुरक्षा इंतजामों का आश्वासन बैठक में सदस्यों को दिया। श्री बहुगुणा ने यातायात में किसी तरह का व्यवधान न हो इसे ध्यान में रखते हुए दुर्गा पंडालों को तथा भंडारे एवं लंगर का आयोजन भी सड़क से दूर हटकर करने की बात भी कही।